हाउडी मोदी में बोले मोदी – धैर्य हम भारतीयों की पहचान है, लेकिन अब हम देश के विकास के लिए अधीर हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्रमोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्पने रविवार को ह्यूस्टन केएनआरजी स्टेडियम में भारतीय समुदाय को संबोधित किया। इस दौरान मोदी ने कश्मीर मुद्दे पर बिना नाम लिए पाकिस्तान पर निशाना साधा। मोदी ने कहा-‘‘भारत जो कर रहा है, उससे कुछ ऐसे लोगों को भी दिक्कत हो रही है, जिनसे खुद अपना देश संभल नहीं रहा है। अमेरिका में 9/11 हो या मुंबई में 26/11 हो, उसके साजिशकर्ता कहां पाए जाते हैं? साथियो! अब समय आ गया है कि आतंकवाद के खिलाफ और उसे बढ़ावा देने वालों के खिलाफ निर्णायक लड़ाई लड़ी जाए।’’
मोदी ने कहा, “इन लोगों ने भारत के प्रति नफरत को ही अपनी राजनीति का केंद्र बना दिया है। ये वो लोग हैं जो अशांति चाहते हैं। आतंक के समर्थक हैं और आतंकवाद को पालते-पोसते हैं। उनकी पहचान सिर्फ आप नहीं, पूरी दुनिया अच्छी तरह जानती है। मैं यहां जोर देकर कहना चाहूंगा कि इस लड़ाई में पूरी मजबूती के साथ प्रेजिडेंट ट्रम्प खड़े हुए हैं। राष्ट्रपति ट्रम्प को भी एक बार स्टैंडिंग ओवेशन दीजिए। भाइयो-बहनो! भारत में बहुत कुछ हो रहा है। बहुत कुछ बदल रहा है और बहुत कुछ करने के इरादे लेकर हम चल रहे हैं। वो जो मुश्किलों का अंबार है, वही तो मेरे हौसलों की मीनार है।’’


मोदी ने अनुच्छेद 370 हटाने का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा, ‘‘अनुच्छेद 370 ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों को विकास और समान अधिकारों से वंचित रखा था। इसका फायदा आतंकवाद और अलगाववाद बढ़ाने वाली ताकतें उठा रही थीं। अब भारत के संविधान ने जो अधिकार बाकी भारतीयों को दिए हैं, वही अधिकार जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों को मिल गए हैं। वहां की महिलाओं-बच्चों-दलितों के साथ हो रहा भेदभाव खत्म हो गया है। राज्यसभा में जहां हम बहुमत में नहीं हैं, वहां भी इसे दो-तिहाई से पारित किया। एक बार भारत के सांसदों के लिए खड़े होकर तालियां बजाएं।’

ट्रम्प के संबोधन के बाद दोबारा मंच पर लौटे प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘‘ये जो दृश्य है। ये जो माहौल है। यह अकल्पनीय है। और जब टेक्सास की बात आती है तो हर बात भव्य, विशाल होना यहां के स्वभाव में है। आज हम यहां नई हिस्ट्री-नई केमिस्ट्री बनते देख रहे हैं। यह एनर्जी भारत-अमेरिका के बीच बढ़ती सिनर्जी की गवाह है। इस कार्यक्रम का नाम हाउडी मोदी जरूर है, लेकिन मोदी अकेले कुछ नहीं है। मैं 130 करोड़ भारतीयों के आदेश पर काम करने वाला साधारण व्यक्ति हूं।’’

मोदी ने कहा, ‘‘आज इस स्टेडियम में बैठे 50 हजार से ज्यादा भारतीय हमारी महान परंपरा के प्रतिनिधि बनकर यहां उपस्थित हैं। आपमें से कई तो ऐसेभी हैं, जिन्होंने भारत में लोकतंत्र के सबसे बड़े उत्सव लोकसभा चुनाव 2019 में अपना योगदान दिया है। यह ऐसा चुनाव था, जिसने भारतीय लोकतंत्र की शक्ति का परचम पूरी दुनिया में लहरा दिया। इस चुनाव में 61 करोड़ से ज्यादा वोटरों ने हिस्सा लिया। एक तरह से अमेरिका की कुल आबादी के लगभग दोगुना लोगों ने मतदान में हिस्सा लिया। 8 करोड़ युवा ऐसे थे, जो फर्स्ट टाइम वोटर थे। भारतीय लोकतंत्र के इतिहास में सबसे ज्यादा महिला वोटरों ने इस बार वोट डाला। सबसे ज्यादा संख्या में महिलाएं चुनकर भी आई हैं।”
हम किसी दूसरे से नहीं, अपने आप से मुकाबला कर रहे हैं :
‘‘धैर्य हम भारतीयों की पहचान है। लेकिन अब हम देश के विकास के लिए अधीर हैं। 21वीं सदी में देश को नई ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए सबसे चर्चित शब्द है- विकास। सबसे बड़ा मंत्र है- सबका साथ, सबका विकास। सबसे बड़ी नीति है- जनभागीदारी। आज भारत का सबसे प्रचलित नारा है- संकल्प से सिद्धि। आज भारत का सबसे बड़ा संकल्प है- न्यू इंडिया। भारत आज न्यू इंडिया के सपने को पूरा करने के लिए दिन-रात एक कर रहा है। इसमें सबसे खास बात है कि हम किसी दूसरे से नहीं, बल्कि अपने आप से मुकाबला कर रहे हैं। खुद को बदल भी रहे हैं।’’

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘‘पूरी दुनिया में अगर सबसे कम कीमत पर कहीं डेटा उपलब्ध है तो वह देश भारत है। आज भारत में 1 जीबी डेटा की कीमत 25 से 30 सेंट्स के आसपास है। यानी एक डॉलर का भी चौथाई हिस्सा। मैं यह भी बताना चाहूंगा कि एक जीबी डेटा की दुनिया में औसतकीमत 25 से 30 गुना ज्यादा है। यह सस्ता डेटा भारत में डिजिटल इंडिया की नई पहचान बन रहा है। इसने भारत में गवर्नेंस को रिडिफाइन किया है।’’

मोदी ने कहा, ‘‘प्रेसिडेंट ट्रम्प मुझे टफ नेगोशिएटर कहते हैं, लेकिन वे खुद भी द आर्ट ऑफ द डील में माहिर हैं। मैं उनसे बहुत कुछ सीख रहा हूं। मैं चाहूंगा कि आप सपरिवार भारत आएं। आप हमें स्वागत करने का अवसर दें। हम दोनों की ये दोस्ती भारत-अमेरिका के साझा सपनों और उज्ज्वल भविष्य को नई ऊंचाई देगी।’’ प्रधानमंत्री ने कहा- ‘‘हम इतिहास बनता देख रहे हैं। नई दिल्ली से न्यूजर्सी और हैदराबाद से ह्यूस्टन तक लोगों की निगाहें इस क्षण पर हैं। 2017 में आपने मुझे अपने परिवार से मिलवाया था। आज मुझे अपने परिवार से आपको मिलवाने का मौका मिला है।’

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने संबोधन की शुरुआत करते हुए कहा, ‘‘अमेरिका के सबसे भरोसेमंद और अच्छे दोस्त प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की यहां मौजूदगी का मैं स्वागत करता हूं। प्रधानमंत्री मोदी भारत के लिए अच्छा काम कर रहे हैं। उनका इस ऐतिहासिक कार्यक्रम में मौजूद होना सम्मान की बात है। अमेरिका में बसे भारतीय अमेरिका की तरक्की के लिए काम कर रहे हैं। कुछ ही महीनों पहले 60 करोड़ भारतीयों ने दुनिया के सबसे बड़े चुनाव में प्रधानमंत्री मोदी और उनकी पार्टी को जीत दिलाई। आपको बधाई। (60 करोड़) यह बहुत बड़ी संख्या है। आपको जन्मदिन की भी शुभकामनाएं (मोदी का 17 सितंबर को जन्मदिन था)। प्रधानमंत्री और मैं यहां हर उस चीज का जश्न मनाने आए हैं, जो भारतीयों और अमेरिकियों को एकजुट करती है। अमेरिका में 40 लाख भारतीयों पर हमें गर्व है। आपने भी अमेरिका को गर्व महसूस कराने में योगदान दिया है। मेरा प्रशासन आपके लिए हमेशा मौजूद है।
ट्रम्प नेआतंकवाद का जिक्र किया, कहा- भारत के लिए भी सीमा सुरक्षा अमेरिका जितनी जरूरी
ट्रम्प ने अपने भाषण में इस्लामिक आतंकवाद का जिक्र किया। उन्होंने कहा, ‘‘भारत और अमेरिका, दोनों मानते हैं कि अपने समुदाय को सुरक्षित रखने के लिए हमें अपनी सीमाओं को सुरक्षा करनी होगी। मेरे प्रशासन ने अब तक इसी पर काम किया है। जो हमारे देश के लिए खतरा हैं, उन्हें अमेरिका में प्रवेश न मिले, यह सुनिश्चित किया जा रहा है। सीमा की सुरक्षा भारत के लिए भी इतनी ही महत्वपूर्ण है। हम अभूतपूर्व कदम उठा रहे हैं औरदक्षिण से अवैध अप्रवासियों को रोकने की व्यवस्था कर रहे हैं। हम उन वैध प्रवासियों के आभारी हैं, जो कड़ी मेहनत करते हैं और टैक्स देते हैं। हम अवैध रूप से आने वालों को मुफ्त सुविधाएं नहीं देना चाहते। मैं कभी नहीं चाहूंगा कि कोई नेता अवैध प्रवासियों को वैध प्रवासियों के हक की सुविधाएं लेने दे।’’

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘भारत-अमेरिका के बीच रिश्ते पहले से कहीं मजबूत हैं। हमारे रिश्ते साझा मूल्यों और लोकतंत्र पर आधारित हैं। हम कानून से चलते हैं और इंसाफ के लिए काम करते हैं। दोनों देशों के संविधान तीन खूबसूरत शब्दों – वी द पीपल… से शुरू होते हैं। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में दुनिया भारत को मजबूती से आगे बढ़ते हुए देख रही है। प्रधानमंत्री मोदी के शासन में कई लाख लोग गरीबी से बाहर आए हैं। यह महत्वपूर्ण बात है।’’


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!