गाजे बाजे के साथ किया गया जीवित्पुत्रिका का पुजन

गनेश पाल (संवादाता)

पड़री | क्षेत्र के हर ग्राम में महिलाओ ने गाजे बाजे के साथ रविवार को जीवित्पुत्रिका का पुजन किया।परंपरओ के अनुसार नदी तालाबो कुओ के किनारे जहा जो साधन उपलब्ध है जीवित्पुत्रिका कि स्थापना करती है कुओ व तालाबो के किनारे समुहो मे बैठ कर गन्ना,चना,फल,फुल,मिठी पुरी प्रसाद चढ़ाकर आपस में कथाए कहती है तथा घर से निकलते समय बाजे के साथ पुजन स्थल पर बाजा बजाते हुए जाती है तथा वापस घर जाकर समापन किया जाता है दिन भर औरते निर्जला व्रत उपवास कर दूसरे दिन पारण कर प्रसाद ग्रहण करती है तथा दूसरे को प्रसाद वितरण किया जाता है पुत्रो के दीर्घायु कि कामना के लिए यह व्रत एवं पुजा किया जाता है जो अश्विन अष्टमी के प्रदोष काल पुत्रवती महिलाए जीवित वाहन कि पुजा करती हैं


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!