जिला कार्यक्रम अधिकारी की टीम ने किया आँगनबाड़ी केन्द्रो की जाँच, मिली कई खामियां

एस0 प्रसाद (संवाददाता)

-आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों एवं सुपर वाइजरों पर गिर सकती है गाज़

म्योरपुर ।बाल विकास परियोजना म्योरपुर व दुद्धी में हो रहे बाल पोषाहार की कालाबाज़ारी उजागर होने के बाद जिलाधिकारी के निर्देश पर जिला कार्यक्रम अधिकारी अजित कुमार सिंह द्वारा गठित की गयी 20 जांच टीम द्वारा म्योरपुर ब्लॉक के आँगनबाड़ी केन्द्रो की जाँच की गयी हालांकि प्रत्येक टीम पांच या छः केन्द्रो की ही जाँच कर सकी।जाँच के दौरान आगनबाड़ी कार्यकत्रियों से बाल पोषाहार वितरण रजिस्टर व स्टॉक की जाँच की गयी जिसमे कई खामिया भी पाई गयी परन्तु टीम द्वारा आंगनबाड़ी केन्द्रो का नाम स्पष्ट नही किया है।बाल विकास परियोजना कार्यालय म्योरपुर पर पंहुचे जिला कार्यक्रम अधिकारी अजित कुमार सिंह ने बताया कि गठित 20 टीमों द्वारा म्योरपुर ब्लॉक के लगभग 100 केन्द्रो की जाँच की गयी है।रिपोर्ट मिलने के बाद कार्यवाही की जायेगी।आगे उन्होंने कहा कि यदि बाल पोषाहार वितरण करते समय सभी आँगनबाड़ी केन्द्रो की कोडिंग करके वितरण किया गया होता तो बाल परियोजना अधिकारी व बड़े बाबू कार्यवाही की जद में नही आये होते ।जाँच में पाया गया है की बाल पोषाहार ढुलान कर्ता द्वारा व्यापक पैमाने में गड़बड़ी की गयी है जिसका आकंलन किया जा रहा है।टीम के साथ प्रदीप कुमार सिंह (प्रशासनिक अधिकारी ICDS) भी रहे।दुद्धी व म्योरपुर के पकड़े गए बाल पोषाहार की बोरियों के बाद हो रही जाँच में कई आगनबाड़ी कार्यकत्रियों व सुपरवाइजरों पर गाज़ गिर सकती है। बता दें कि 18 सितम्बर को आरंगपानी मे दुद्धी का पोषाहार 124 खाली व चार भरी बोरी और 19 सितम्बर को 100 बोरी बभनी में म्योरपुर का पोषाहार एक घर मे टीम ने छापेमारी में पकड़ा था जिसमे कई लोगों पर मुकदमा दर्ज हुआ है। टीम में बभनी बाल विकास परियोजना अधिकारी शैलास राम जी ,हृदयनारायण दुद्धी परियोजना अधिकारी,रेनू वर्मा शहर परियोजना अधिकारी,रविन्द्र प्रकाश चतरा परियोजना अधिकारी,हरी मोहन नगवा परियोजना अधिकारी, कुसुमलता मिश्रा सुपरवाइज़र रावर्ट्सगंज, शशिबाला, शुशीला देवी शामिल रही।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!