रामनगर डेयरी से दुग्ध वाहन बन्द समिति सेउत्पादकों के दूध खरीद बन्द सचिव मजबूरी में दूध बाजारों में बेच रहे

20 सितम्बर 2019
कुलदीप याद्व

कमालपुर चंदौली उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश में श्वेत क्रांति लाने का किसानों स्वप्न्न दिखा रही है।लेकिन दुग्ध संघ वाराणसी से संचालित फीडर बैलेंसिंग डेयरी रामनगर द्वारा बरहनी, कमालपुर,सकलडीहा क्षेत्र की दुग्ध उत्पादक समितियों के दूध उठाने वाले दुग्ध वाहन को 10 सितम्बर से बंद कर दिया गया है ।जिसके दूध समितियों के सचिव दूध उत्पादकों के दूध को खरीदना बन्द कर दिया है।
दुग्ध समिति रैपुरी, रैथा, कमालपुर, बभनियाव, तेलहरा, पई,डिग्घी, जलालपुर,एवती, बरहन, महरा,गौसपुर सहित अन्य समितियों का दूध की खरीद बन्द हो गयी।जिस कारण दूध उत्पादकों को अपने पशुओं को चारा खिलाने की समस्या पैदा हो गयी।रैपुरी समिति के सचिव मुकेश सिंह का कहना है कि हमने डेयरी की शिकायत मुख्यमंत्री पोर्टल पर की है।जिससे कुपित होकर डेयरी के पी एंड आई द्वारा हम लोगो के क्षेत्र में चलने वाली दुग्ध वाहन को बंद कर दिया गया।जिससे आज यह समस्या आ गयी ।जिसके सन्दर्भ में महाप्रबंधक से टेलीफोन पर वार्ता की गई उनके द्वारा भी कोई समस्या का निदान नही किया गया जिससे हम मजबूरी में अपने पशुओं के दूध अपने वाहन से कमालपुर,धीना सहित अन्य बाजारों में ले जाकर औने पौने दामो पर बेच रहे।बंसलोचन यादव,सुभाष मौर्य,रामाशीष,रामा यादव सहित अन्य का कहना है की दुग्ध वाहन का संचालन जल्द नही किया गया तो हम बाध्य होकर आंदोलन करेंगे।
क्या कहते अधिकारी
महाप्रबन्धक दुग्ध संघ वाराणसी आर पी सिंह का कहना है की दुग्ध वाहन बन्द होने की जानकारी हमे हो गयी जिसकी जांच करवाकर संचालन शीघ्र करवा दिया जाएगा।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!