धमकी से डरे पीड़ित परिवार ने पुलिस अधीक्षक को शिकायत पत्र देकर की कार्यवाही की मांग।

दिनांक 18 सितंबर 2019

राजेश गुप्ता (विशेष संवाददाता)

पीलीभीत। जिला पीलीभीत के थाना बीसलपुर क्षेत्र के ग्राम चुररा सकतपुर निवासी अली अहमद पुत्र लाल मोहम्मद ने पुलिस अधीक्षक को एक शिकायती पत्र देते हुए मीडिया को बताया है मेरे के परिवार वालों के विरुद्ध गांव के ही नूर मोहम्मद पुत्र मकबूल ने मारपीट की एक एनसीआर धारा 323,504 के तहत दिनांक 30 जुलाई 2019 को थाना बीसलपुर में मुकदमा पंजीकृत कराया जो कि गाली गलौज हुआ था।पीड़ित ने आगे बताया कि उसको पता चला है नूर मोहम्मद थाना बीसलपुर पुलिस को धरना देने की चेतावनी देकर मेरे व मेरे परिवार के विरुद्ध अन्य धाराएं 147,452,323,504,506 तरमीम करवाना चाहता है और इसी बीच नूर अहमद ने पुलिस चौकी चुररा सकतपुर पर एक प्रार्थना पत्र दिया है कि मेरा मुकदमा 7 अगस्त 2019 तक चोरी तथा घर में घुसकर मारपीट करने का पंजीकृत नहीं किया तो 8 अगस्त 2019 को मैं और मेरे परिवार की महिलाएं भूख हड़ताल पर बैठ जाएंगी।

वहीं पीड़ित ने आगे बताया दिनांक 30 अगस्त 2019 को समय लगभग 11:00 बजे अच्छी बी पत्नी का कादिम हुसैन जो नूर मोहम्मद की भाभी है व जाकिर, साबिर नूर पुत्र गण मकबूल तथा कादिम पुत्र खैराती मेरे घर आए और अच्छी बी बोली तुम मुझे तीन लाख रुपया दो नही तो तुम्हारे विरुद्ध बलात्कार का झूठा मुकदमा लिखवा देंगे जिसमें तुम व तुम्हारा पूरा परिवार को फसाया जाएगा। पीड़ित अली अहमद ने आगे बताया नूर अहमद दबंग व अपराधी किस्म का व्यक्ति है उसके व उसके परिवार वालों का काम गांव के लोगों को झूठे मुकदमे में फंसाना है इसी कारण नूर मोहम्मद कई गांव से भगाया गया है तथा बह सातवीं बार गांव चुर्रा सकतपुर में आकर बसा है।

पीड़ित परिवार ने पुलिस अधीक्षक पीलीभीत मनोज कुमार सोनकर को प्रार्थना पत्र देकर न्याय की मांग की है। वहीं उक्त मामले में पुलिस क्षेत्राधिकारी बीसलपुर प्रवीण मलिक से जानकारी दी गई तो उन्होंने मीडिया को बताया है प्रार्थना पत्र मिला है जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी पुलिस जांच जारी है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!