नवीन मंडी समिति के परिसर में कृषक पंजीकरण कार्यशाला का किया गया आयोजन

16 सितम्बर 2019
दीनदयाल शास्त्री ब्यूरो


पीलीभीत। मंडी मे जिला खरीद अधिकारी/ अपर जिलाधिकारी(वि/रा) की अध्यक्षता मे धान खरीद 2019-20 के लिए कृषक पंजीकरण कार्यशाला का आयोजन किया गया ।
जिसमे जिला खाद्य विपणन अधिकारी सचिव मंडी समिति एवं समस्त जिलाप्रबंधक क्रय एजेंसी भी उपस्थित रहे। जनपद मे धान खरीद 1 अक्टूबर से प्रारंभ होनेवाली है जिसमे धान का समर्थन मूल्य धान कामन का 1815 रु. प्रति कुंतल और ग्रेड वन का 1835 रु. प्रति कुंतल है। जनपद मे अब तक 3675 किसानों द्वारा सरकारी क्रय केंद्रों पर धान बेचने के लिए पंजीकरण कराया गया है। क्योंकि गतवर्ष जनपद के 24432 किसानों ने धान बेचा था। जिला खाद्य विपणन अधिकारी ने पंजीकरण हेतु आवश्यक तथ्यों से अवगत कराया साथ ही धान खरीद नीति के प्रमुख बिंदुओं से किसानों को अवगत कराया। पंजीकरण हेतु आवश्यक राष्ट्रीय कृत बैंकों मे खाते खुलवाने के लिए सभी किसानों को अवगत कराया गया।धान क्रय मे प्रथम बार लागू कांट्रेक्ट फार्मिंग और बटाई खेती के संबंध मे भी अवगत कराया गया ।

मंडी सचिव ने किसानों से अपने धान सुखाकर केंद्रों पर लाने का आग्रह किया। किसान वेदप्रकाश शर्मा ने मांग की कि न्याय पंचायत स्तर और विकास खंडो मे पंजीकरण कैम्प लगाये जाये। वही भारतीय किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष सतविंदर कहलों ने मांग की कि उतराखंड की भांति नमी काटकर खरीद की जाय,ट्रालियों पर बोली लगवाई जाय, केंद्रों पर किसानों का शोषण रोका जाय। जिलाखरीद अधिकारी/ अपरजिलाधिकारी(वि/रा) ने सभी किसानों से स्वयं पंजीकरण कराने और अपने ग्राम के अन्य किसानों से पंजीकरण कराने हेतु प्रोत्साहित करने के लिए कहा। पंजीकरण हेतु सभी मंडियों मे स्थायी पंजीकरण कैम्प लगाने हेतु निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि क्रय केंद्रों पर किसी किसान का शोषण नही होने दिया जाएगा। कहीं कोई समस्या आती है तो तत्काल जिला खाद्य विपणन अधिकारी, संबंधित अधिकारियों को सूचित करें।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!