मिर्जापुर की घटना को लेकर पत्रकारों में आक्रोश, ज्ञापन सौंप किया डीएम मिर्जापुर पर कार्यवाही की माँग

07 सितम्बर 2019

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । मिड-डे-मील में बच्चों को नमक-रोटी परोसे जाने के मामले में मिर्जापुर के जिलाधिकारी द्वारा पत्रकार पवन जायसवाल के ऊपर दर्ज कराए गए मुकदमे के खिलाफ जनपद के पत्रकारों में भी रोष व्याप्त है। आज आईएफडब्लूजे की सोनभद्र इकाई द्वारा जिलाध्यक्ष विजय विनीत के नेतृत्व में पत्रकारों ने जिलाधिकारी कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन किया तथा जिलाधिकारी प्रतिनिधि को मुख्यमंत्री नामित ज्ञापन सौंप जिलाधिकारी मिर्जापुर को तत्काल हटाए जाने की मांग किया।

पत्रकारों ने कहा कि मिर्जापुर के एक प्राथमिक विद्यालय में बच्चों को गुणवत्तायुक्त भोजन के स्थान पर मिड-डे-मील योजना तहत नमक-रोटी खिलाया जा रहा था। स्थानीय पत्रकार पवन जायसवाल ने इसको प्रमुखता से प्रकाशित कराया। मिर्जापुर के जिलाधिकारी ने नमक-रोटी परोसने वालों के खिलाफ कार्रवाई न करते हुए उल्टे उक्त पत्रकार पर ही मुकदमा दर्ज करा दिया। जिलाधिकारी की यह कार्रवाई स्वतंत्र पत्रकारिता पर कुठाराघात है। यह कृत्य जनता को सही और निष्पक्ष खबरों से दूर रखने की साजिश भी है। पत्रकार पर दर्ज एफआइआर से देश भर के पत्रकारों में आक्रोश व्याप्त है। इसकी जितनी भी निन्दा की जाए कम है। इस दौरान आईएफडब्लूजे के जिलाध्यक्ष विजय विनीत, आईएफडब्लूजे के जिला उपाध्यक्ष शान्तनु विश्वास, चन्द्रकान्त मिश्रा, संतोष सोनी, रवि प्रकाश पाण्डेय, आनन्द कुमार चौबे, अनिल तिवारी, गणेश दुबे, गिरीश पाण्डेय, अरविंद तिवारी और अंशु खत्री आदि पत्रकारगण उपस्थित रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!