फिरौती मांगने के मामले में पुलिस अधीक्षक ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर किया खुलासा,तीन आरोपी गिरफ्तार

06 सितंबर 2019
ब्यूरो दीनदयाल शास्त्री के साथ विशेष संवाददाता राजेश गुप्ता

पीलीभीत। उत्तर प्रदेश के जिला पीलीभीत में पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सोनकर ने पुलिस लाइन पीलीभीत में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पूरनपुर में जान से मार देने की धमकी देकर फिरौती में पांच करोड़ रुपए मांगने के मामले में आज खुलासा कर दिया है। पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सोनकर ने अपने खुलासे में मीडिया को बताया है-थाना पूरनपुर क्षेत्र के अंतर्गत निवासी खड़क सिंह जो अमरीका के न्यूजर्सी में रहते हैं उनके मोबाइल नंबर पर दिनांक 30 अगस्त 2019 तथा 3 सितंबर 2019 और 5 सितंबर 2019 को अज्ञात फोन नंबरों के द्वारा धमकी दी गई जिसमें कहा गया कि तुम्हारा पुत्र गगनदीप जो पूरनपुर क्षेत्र में रहता है उसको जान से मार देंगे नहीं तो 5 करोड रुपए दो।अज्ञात फोन नंबरों के द्वारा धमकी की सूचना पाकर गगनदीप ने सिटी सेंटर कस्बा पूरनपुर में अज्ञात मोबाइल नंबरों पर मुकदमा दर्ज करबाया।मुकदमा दर्ज करवाते ही पीलीभीत पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सोनकर के द्वारा मामले को गंभीर मानते हुए धमकी देने वाले नंबरों को सर्विलांस पर लगाने के साथ ही अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए दो टीम का गठन किया गया इसमें प्रथम टीम में सीओ बीसलपुर प्रवीण मलिक मय टीम प्रभारी सर्विलांस स्वाट उपनिरीक्षक आलोक मिश्रा प्रभारी थाना पुरनपुर अतर सिंह व सर्विलांस स्वाट टीम को रखा गया तथा द्वितीय टीम के प्रभारी क्षेत्राधिकारी पूरनपुर कमल सिंह मय अतिरिक्त निरीक्षक पूरनपुर अजब सिंह मय टीम के रहे।
उक्त घटना के अनावरण एवं अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु प्रभारी सर्विलांस स्वाट द्वारा सर्विलांस टीम के साथ अज्ञात नंबरों की जांच पड़ताल में लग गई तथा इसी क्रम में फिरौती मांगने में प्रयोग किए गए मोबाइल नंबर से तीन अभियुक्तों के हरप्रीत सिंह पुत्र रंजीत सिंह निवासी कीरतपुर उर्फ जैनपुर थाना पूरनपुर,गगनदीप सिंह उर्फ गग्गी पुत्र हरजीत सिंह निवासी प्रसाद पुर थाना खुटार जनपद शाहजहांपुर ब कुलदीप सिंह उर्फ बिट्टू पुत्र त्रिलोक सिंह निवासी हीरपुर थाना खुटार जनपद शाहजहांपुर के नाम प्रकाश में आए।तीनों अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस द्वारा प्रयास किए जाने लगे इसी क्रम में मुखबिर के द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि जिन अभियुक्तों की आपको तलाश है वह कड़ेर चौराहा से गढ़वा खेड़ा की तरफ नदी के पास बैठे हैं तथा भागने की फिराक में है सूचना पाकर प्रभारी निरीक्षक थाना पूरनपुर अतर सिंह मय निरीक्षक अजब सिंह मय हमराही गण व प्रभारी सर्विलांस व उप निरीक्षक आलोक मिश्रा मय टीम के साथ नदी पुल पर पहुंचे जहां तीन अभियुक्त बैठे हुए थे जो हमें आता देखकर फायर कर भागने लगे जहां उनका पीछा कर दो अभियुक्तों को आज दिनांक 6 सितंबर 2019 समय सुबह 6:05 पर गिरफ्तार कर लिया गया तथा एक अभियुक्त भागने में सफल रहा पकड़े गए अभियुक्तों में हरप्रीत सिंह पुत्र रंजीत सिंह निवासी किरतपुर उर्फ जौनपुर के पास से एक देशी तमंचा 315 बोर एक जिंदा कारतूस एक अदद खोखा कारतूस एक मोबाइल कीपैड कंपनी एक्आ तथा दूसरा आरोपी गगनदीप सिंह उर्फ गद्दी से एक तमंचा देसी 12 बोर दो अदद जिंदा कारतूस एक मोबाइल कीपैड कंपनी सैमसंग फिरौती मांगने वाला सिम बरामद किया गया है।
वही भागे हुए अभियुक्त कुलदीप सिंह उर्फ बिट्टू पुत्र त्रिलोक सिंह निवासी हीरपुर थाना खुटार जनपद शाहजहांपुर को आज सुबह गैस गोदाम रोड कोतवाली पूरनपुर से मय एक तमंचा 12 बोर व 2 जिंदा कारतूस के साथ गिरफ्तार किया गया है।
पकड़े गए अभियुक्तों के पीछे अपराधिक इतिहास रहा है। पुलिस अधीक्षक ने घटना खुलासा करते हुए बताया है की पूछताछ के दौरान अभियुक्त गगनदीप उर्फ गग्गी के द्वारा बताया गया है की पास के ही गांव में रह रहे कुलदीप सिंह उर्फ बिट्टू जो कि रिश्ते में वादी का मामा है *वादी की मां का चचेरा भाई*) वह बादी की जमीन भी ठेके पर काम करता है।उसके द्वारा मुझे 1 साल पहले इस कार्य को करने के लिए कहा गया तो पहले मैंने मना कर दिया था मगर कुलदीप सिंह उर्फ बिट्टू द्वारा बार-बार कहने पर तथा मेरी आर्थिक स्थिति ठीक ना होने के कारण यह कार्य करने को सहमत हो गया इसी दौरान कुछ दिन पहले मेरी दोस्ती हरप्रीत सिंह निवासी कीरतपुर थाना पूरनपुर से हो गई जो कि मेरे यहां दुकान खोलने के लिए कह रहा था इसके बाद हम दोनों लोगों ने अलग-अलग सिमें चुराकर पहले मैंने अपने मोबाइल से विदेश में रह रहे खड़क सिंह को उनके बेटे को जान से मारने की धमकी का भय दिखाकर पांच करोड़ रुपये की मांग की थी,यह सारा कार्य मैंने योजना बनाकर कुलदीप सिंह उर्फ बिट्टू के कहने पर किया था।
पुलिस के द्वारा पकड़े गए अभियुक्तों के ऊपर कानूनी कार्रवाई करते हुए जेल भेज दिया गया है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!