प्रेस क्लब चोपन ने कहा पत्रकारों का उत्पीड़न दुर्भाग्यपूर्ण

05 सितम्बर 2019

घनश्याम पाण्डेय/विनीत शर्मा(संवाददाता)

चोपन। मिर्जापुर के पत्रकार पवन जायसवाल के ऊपर हुए फर्जी मुकदमों की निंदा करते हुए चोपन प्रेस क्लब के सदस्यों ने गुरुवार की शाम एक आवश्यक बैठक कर पत्रकारों के ऊपर हो रहे उत्पीड़न की घोर निंदा की इस दौरान राष्ट्रीय सहारा के पत्रकार मनोज चौबे और आज के पत्रकार ज्ञानेन्द्र पाठक ने सामूहिक रूप से कहा कि पत्रकार समाज का एक सेवक होता है जो की समाज के अच्छाइयों

और बुराइयों को उजागर करता है तथा सामाजिक गतिविधियों से जनता को रूबरू कराता है लेकिन आज के समय मे पत्रकार भी सुरक्षित नही है पत्रकारों के ऊपर हो रहे उत्पीड़न और अत्याचार से यह साफ जाहिर होता हैं कि समाज का प्रहरी भी खतरे में है। आगे इस तरह की पत्रकारों का उत्पीड़न न हो इसके लिए हम सब को एक होना पड़ेगा। तथा हम सब इस बैठक के माध्यम से यह मांग करते हैं कि मिर्जापुर के पत्रकार पवन जायसवाल पर हुए फर्जी मुकदमे को तत्काल वापस लिया जाए। इस मौके पर राजेश गोस्वामी,अशोक मद्देशिया, कैलाश नाथ,अनुज जायसवाल, राहुल शर्मा, राकेश केशरी,विनीत शर्मा,सद्दाम कुरैशी,सावित्री देवी इत्यादि लोग मौजूद रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!