वि0 ख0 खुटार के विकास की जमीनी हकीकत जानें ग्रामीणों की जुबानी

05 सितम्बर 2019

-गांव में एक भी पोल नहीं बोर्ड में बिजली से संतृप्त है गांव

खुटार- शाहजहांपुर । सरकारी योजनाओं को कागज पर साकार करने का नायाब तरीका गांव हीरपुर में देखा जा सकता है इक्कीसवीं सदी में जहाँ सारा देश डिजिटल भारत की ओर अग्रसर है वही ग्राम पंचायत काढैया के मजरा हीरपुर के ग्रामीण सरकारी योजनाओं के लाभ से कोसो दूर है बजह साफ है कि अधिकारी कागजो पर काम करके सरकार को फेल करने में लगे है।
ग्राम हीरपुर में प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना के तहत दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के अंतर्गत बीते बर्ष 08 अकटूबर को ही गॉव में बिजली दे दी गई जबकि हकीकत यह है कि लगभग चालीस मकानों बाले इस गॉव में अभी बिजली कम खंभे भी नही लगे हैं।इंटरनेट के इस युग मे गॉव बाले अंधेरे में रहकर जलते हुए बल्व का स्वप्न देख रहे है।
हीरपुर निवासी ग्रामीणों ने बताया कि वह इस गांव में लगभग 50 वर्षों से रह रहे हैं परंतु उन्हें मूलभूत सुविधाओं का लाभ नहीं मिला ना ही गांव में कोई विद्यालय है ना ही गांव में बिजली की कोई सुविधा है पढ़ने के लिए बच्चों को बाहर जाना होता है जो कि तीन-चार किलोमीटर दूरी पर स्थित गांव में स्कूल है गांव की सड़कें भी ठीक नहीं है अभी गांव में शौचालय भी पूर्णतया नहीं बन पाए हैं पात्रों को आवास भी नहीं मिल पा रहे हैं ।

ग्राम पंचायत अध्यक्ष ने बताया कि गांव हीरपुर में विद्युत सुचारु नहीं है ना ही कोई पोल लगा है मेरी अनुपस्थिति में वहां पर बोर्ड लगा दिया गया विद्युत की मांग के लिए मैंने विभाग के अधिकारियों को कई बार लिखित प्रार्थना पत्र दिया है फिर भी विद्युत नहीं आई है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!