पुलिस अभिरक्षा में युवक की मौत मामला : डीएम ने दिया मजिस्ट्रियल जाँच का आदेश

29 अगस्त 2019

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । जिला मजिस्ट्रेट एस0 राजलिंगम ने गत दिन पहले जिले में स्थित थाना-पन्नूगंज में प्रार्थी उमापति शुक्ल पुत्र बैजनाथ शुक्ल निवासी सजौर, थाना-राबर्ट्सगंज, जनपद-सोनभद्र द्वारा दर्ज करायी गयी प्रथम सूचना रिपोर्ट संख्या-0109, 27 अगस्त 2019 के अनुसार 26 अगस्त 2019 को ग्राम बगही में श्याम जी दूबे के घर एक बोरी सरसों की चोरी के आरोप में उनके लड़के शिवम शुक्ल को पकड़ लिया गया तथा 100 नम्बर की पुलिस बुलाकर लड़के को मोटर साइकिल के साथ थाना-पन्नूगंज भेजा गया था। उक्त थाने में उनके लड़के शिवम शुक्ल को 24 घन्टे बीतने पर भी चालान नहीं किया गया। प्रार्थी के अन्य पुत्र रवि शुक्ल व अभय शुक्ल, शिवम शुक्ल से मिलने थाने पर गये तो थानाध्यक्ष द्वारा नाराजगी जाहिर करते हुए भगा दिया गया। किन्तु दोनों लड़के शिवम से मिलकर लगभग 5 बजे वापस आये तब तक वह ठीक था, किन्तु इसके 2 घन्टे बाद सूचना प्राप्त हुई कि शिवम की थाने में मृत्यु हो गयी है और परिजनों को लोढ़ी हास्पिटल जाने को कहा गया। प्रार्थी का मुख्य कथन है कि थाना-पन्नूगंज द्वारा चोरी का जुर्म कबूल करवाने के लिए शिवम शुक्ल को कठोर यातना दिये जाने के कारण उसकी मृत्यु थाना पन्नूगंज में हो गयी है। प्रार्थी द्वारा घटना की जॉच कराते हुए पुलिस अभिरक्षा में उसके पुत्र शिवम शुक्ल की हुई मृत्यु हेतु दोषी थानाध्यक्ष एवं पुलिसकर्मियों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही किये जाने की याचना प्रथम सूचना रिपोर्ट में किया गया है।

मामले की गंभीरता व जनहित से जुड़ा हुआ देखते प्रथम दृष्टया जॉच का मामला परिलक्षित होने के कारण जैनेन्द्र सिंह उप जिलाधिकारी मुख्यालय को मजिस्ट्रियल जॉच की जिम्मेदारी देते हुए जिलाधिकारी ने आदेशित किया है कि नामित मजिस्ट्रेट सभी पहलुओं की निष्पक्षता पूर्वक जॉच करते हुए अपनी तथ्यात्मक जॉच रिपोर्ट एक पक्ष के अन्दर प्रस्तुत करना सुनिश्चित करेंगे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!