प्रधानमंत्री किसान मान-धन योजना के लिए पंजीकरण शुरू

26 अगस्त 2019

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम ने जानकारी देते हुए बताया कि लघु एवं सीमान्त किसानों की सामाजिक सुरक्षा कवच उपलब्ध कराने एवं वृद्धावस्था में किसानों को आजीविका के साधन उपलब्ध कराये जाने के उद्देष्य से सवैच्छिक रूप से पुरूष और स्त्री दोनों के लिये 60 वर्ष की आयु प्राप्त करने पर 3 हजार की एवं सुनिश्चित मासिक पेंशन योजना के रूप में प्रधानमंत्री किसान मान-धन योजना (पीएम-केएमवाई) लागू किये जाने का निर्णय लिया गया है। यह एक स्वैच्छिक एवं अंशदायी पेंशन स्कीम है और इसमें शामिल होने की आयु 18 से 40 वर्ष है। पीएम-केएमवाई एक केन्द्रीय योजना है, जिसका संचालन कृषि सहकारिता एवं किसान कल्याण मंत्रालय भारत सरकार द्वारा भारतीय जीवन बीमा निगम (पीएम-केएमवाई) की भागीदारी से किया जायेगा इस योजना के लिये पात्र लघु एवं सीमान्त किसान भाई अपने ग्राम पंचायत स्तर पर संचालित अथवा नजदीकी सीएससी (कामन सर्विस सेन्टर) में जाकर अपना पंजीकरण करा के पीएम किसान मान-धन योजना का कार्ड बनवाकर योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

उन्होंने बताया कि पात्र लघु एवं समान्त किसान भाई पीएम-केएमवाई के लिये योगदान देने के लिये प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लाभ का उपयोग करने इच्छुक है, को अपने बैंक खातों से आटो-डेबिट के लिए सहमति देने के लिये नामाकंन सह-आटों-डेबिट मैण्डेट फार्म पर हस्ताक्षर करके जमा करेंगें, ताकि उनके अंशदान की स्वतः भुगतान हो सके तथा पात्र लघु एवं सीमान्त किसान, जो पीएम-किसान के लाभ से भुगतान की अनुमति के लिए अपनी सहमति नहीं देंगें, एक पंजीकरण सह-आटों-डेबिट मैण्डेट फार्म सीएससी के माध्यम से प्रस्तुत करके उन बैंक खातों से आटों डेबिट हेतु अपनी सहमति देंगें, जिसका सामान्य तौर पर वे बैंक लेन-देन में उपयोग करते हैं। जो किसान पीएम किसान सम्मान निधि योजना मे अपात्र किये गये हैं, वह किसान इस योजना में भी अपात्र रहेंगें साथ ही साथ 02 हे0 से अधिक भूमि वाले किसान अपात्र रहेंगें। प्रधानमंत्री श्रम योगी मान धन योजना (पीएम-एसवाईएम) और प्रधान मंत्री लघु व्यापारी मान धन योजना (पीएम-एलवीएम) के अन्तर्गत पंजीकरण कराने वाले किसान भी योजना में पंजीकरण न कराये क्योंकि वह अपात्र रहेंगें। जिला सोनभद्र में अब तक 343 कृषकों को पंजीकरण प्रधान मंत्री किसान मान धन योजना अन्तर्गत कराया जा चुका है तथा प्रमाण स्वरूप उन्हें पंजीकरण कार्ड भी जारी किया गया है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!