अपडेट: जिला अस्पताल में प्रसव के दौरान जच्चा-बच्चा की मौत, हंगामा

23 अगस्त 2019

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । जिला महिला अस्पताल में आज सुबह प्रसव के दौरान जच्चा-बच्चा की मौत होने के बाद भी उन्हें रेफर करने का खेल किया जाता रहा। परिजनों के हंगामा करने पर जिला अस्पताल के चिकित्सकों ने महिला का स्वास्थ्य परीक्षण कर उसे मृत करार दिया। परिजनों का आरोप है कि डॉक्टर और स्टॉफ नर्स की लापरवाही से जच्चा-बच्चा की मौत हुई है।

मामले की शिकायत सीएमएस से की गई है। सीएमएस ने मामले की जाँच करा कार्यवाही का आश्वासन देने के बाद परिजन माने और हंगामा समाप्त हुआ। घटना के सम्बंध में प्राप्त जानकारी के अनुसार अनपरा थाना क्षेत्र के पारसी बाजार निवासी डेजी झा (30वर्ष) पत्नी मनीष झा गर्भवती थी।

गुरुवार की रात प्रसव पीड़ा होने पर परिजन उसे डिबुलगंज स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर गए लेकिन वहाँ डॉक्टरों ने गर्भवती महिला की स्थिति गंभीर बताते हुए जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। जहाँ इलाज के दौरान आज सुबह जच्चा-बच्चा दोनों की मौत हो गयी। जच्चा-बच्चा की मौत पर परिजनों ने हंगामा करने शुरु कर दिया और डॉक्टर और स्टॉफ नर्स की लापरवाही के कारण दोनों की मौत हुई है।

वहीं पूरे घटना पर सीएमएस डॉ0 प्रेम बहादुर गौतम ने बताया कि आज सुबह मरीज जिला अस्पताल में भर्ती हुई थी। गंभीर स्थिति को देखते हुए मरीज को मंडलीय अस्पताल के लिए रेफर किया गया था लेकिन परिजन मंडलीय अस्पताल नहीं ले गए और सुबह 8:20 बजे जच्चा-बच्चा दोनों की मौत हो गयी। मामले की जाँच के आदेश दे दिए गए हैं और पीएम रिपोर्ट आने का इंतजार है। पीएम रिपोर्ट आने के बाद जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!