परिजनों के अश्रुओं के साये में हुआ सोनू का अंतिम संस्कार

23 अगस्त 2019

रिविन शुक्ला (संवाददाता)

बिलसंडा । स्थानीय थाना क्षेत्र के मोहनपुर बबूरा गाँव में आज सोनू उर्फ सोनपाल पुत्र खंजन लाल का पार्थिव शरीर पहुँचते ही गाँव में शोक का माहौल हो गया। जिसका आज अंतिम संस्कार किया गया। युवक के अंतिम संस्कार पर वहाँ उपस्थित परिजनों के साथ-साथ वहाँ उपस्थित लोगों के भी आंखों में आँशु आ गए। जानकारी के अनुसार देर सोनू की अज्ञात बदमाशों ने गोली मार कर हत्या कर दी थी। मृतक की बहन द्वारा बताया गया था कि सोनू भोजन करने के बाद अपने घर के बाहर सड़क किनारे पड़ी झोपड़ी में तख्त पर सो रहा था और सोते समय उनको सड़क पर कुछ आवाज सुनाई दी, जिससे वह उठकर तख्त पर ही बैठ गया। तख्त पर बैठे हुए सोनू उर्फ सोनपाल पर किसी अज्ञात द्वारा फायर किया गया। गोली सोनू के पेट बाएं तरफ लगी, जिससे वह घायल होकर तख्त पर गिर गया। गोली की आवाज़ सुनकर घरवाले बाहर आये तो देखा कि घायल सोनू खून से लथपथ पड़ा हुआ था। आनन-फानन में सोनू को परिजनों द्वारा नजदीकी सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहाँ डॉक्टरों ने गम्भीर हालत होने के कारण जिला अस्पताल के लिए रेफर किया गया, जिला अस्पताल में भी कोई सुधार नहीं होता देखकर इलाज हेतु जनपद बरेली ले जाया गया जहां पर जिला अस्पताल बरेली में डॉक्टर द्वारा उनको मृत घोषित कर दिया गया।
पूरे प्रकरण पर ग्रामीणों का कहना है कि पशु तस्कर गांव में पशुओं को पकड़ने आये थे और सोनू द्वारा विरोध करने पर उसकी गोली मारकर हत्या कर दी।
घटना के बाद पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सोनकर, पुलिस क्षेत्राधिकारी प्रवीण मलिक, उपजिलाधिकारी सौरभ दुबे, अपर पुलिस अधीक्षक रोहित मिश्रा द्वारा घटना स्थल का मुआयना किया गया था और पीड़ित परिवार से बातचीत कर घटना की जानकारी एकत्रित की गयी थी तथा स्थानीय प्रभारी निरीक्षक सुरेश कुमार सिंह को घटना का शीघ्र खुलासा करने को निर्देशित किया गया था।
मृतक की बहन की तहरीर के माध्यम से मुकदमा अपराध संख्या 254/2019 अंतर्गत धारा 307 दर्ज किया गया है। परिजनों के साथ ही दोस्तों व रिश्तेदारों के अश्रुओं के साये में क्षेत्रीय विधायक की मौजूदगी में उभरते फिल्मी सितारे का हुआ अंतिम संस्कार।
स्थानीय विधायक ने कहा कि गांव में सोनू के नाम पर 215 मीटर इण्टर लॉकिंग सड़क मार्ग का निर्माण कराया जाएगा एवं गांव में सोनू नाम का मुख्य द्वार भी बनाया जायेगा एवं कृषक दुर्घटना बीमा योजना के तहत 5 लाख रुपये आर्थिक सहायता का मुवावजा दिलवाया जाएगा साथ ही जबकि एसएचओ को घटना का खुलासा करने के लिए 24 घण्टे का समय भी विधायक द्वारा दिया गया है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!