ग्रामों व सार्वजनिक स्थलों से प्राप्त की जायेगी स्वच्छ सर्वेक्षण की फीडबैक

22 अगस्त 2019
जनपद न्यूज ब्यूरो

पीलीभीत। स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के अन्तर्गत 14 अगस्त से 25 सितम्बर 2019 तक के मध्य स्वच्छ सर्वेक्षण 2019 का आयोजन किया जा रहा है। भारत सरकार द्वारा नामित आईपाॅस रिसर्च प्राइवेट लि0 नामक एंजेंसी द्वारा जनपद के गांवों की फीडबैक प्राप्त की जायेगी। स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामी 2019 में डायरैक्ट आब्जरवेशन पर 30 प्रतिशत अंक दिये जायेगें। जिसमें विद्यालय, आंगनबाडी केन्द्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, हाट बाजार, धार्मिक स्थल सम्मिलित होगे। इन स्थानों पर शौचालय की उपलब्धता, शौचालय का उपभोग, प्लास्टिक कूडा करकट की स्थिति एवं जल भराव की स्थिति पर मार्किंग की जायेगी। इसी प्रकार नागरिकों द्वारा फीडबैक पर भी 35 प्रतिशत अंक दिये जायेगें। जिसमें समूह बैठक का फीडबैक, प्रबुद्वजनों का फीडबैक लिया जायेगा, आॅनलाइन फीडबैक लिया जायेगा। इसी प्रकार सर्विस लेवल प्रगति पर भी 35 प्रतिशत अंक दिये जायेगे। जिसमें अनुसूचित जाति/जनजाति बस्तियों में सामुदायिक शौचालय की व्यवस्था, सैल्फ असिस्मेन्ट की स्थिति की स्थिति छूटे हुए परिवारों के बेसलाइन का क्रियान्वयन अथवा यदि नही तो द्वितीय चरण का ओडीएफ सत्यापन पर पर मार्किंग की जायेगी।
इस कार्यक्रम के अन्तर्गत आम जनमानस से फीड बैक प्राप्त कर जनपद को राष्ट्रीय रैकिंग प्रदान की जायेगी। इस सर्वेक्षण के अन्तर्गत जनपद को अच्छी रैकिंग प्रदान करने हेतु आम जनमानस से जिलाधिकारी द्वारा अपील की गई है कि अपना फीडबैक एण्ड्राइड मोवाइल में गूगल प्ले स्टोर से 2019 को अपलोड कर ऐप ओपेन करने के बाद अपने प्रदेश का चयन करें उसके बाद अपने जनपद पीलीभीत का चयन करें तद्उपरान्त भाषा का चयन करे इसके बादं दिये गये चार प्रश्नों के उत्तर के विकल्पों में विकल्प संख्या एक का चयन कर अपना फीडबैक समिट करें और अपने जनपद को उच्चतम स्थान प्रदान करें। जिन व्यक्ति के एण्ड्राइड मोवाइल नही वह टोल फ्री नम्बर 18005720112 पर फोन कर अपना फीडबैक दे सकते हैं।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!