नवागत डीएम और एसपी को भाया पुराना श्रावस्ती मॉडल

22 अगस्त 2019

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । जिले के राजस्व विभाग व पुलिस विभाग के अधिकारीगण, भूमि विवाद के निस्तारण के लिए बेहतर कोशिश करें। पूर्व में क्रियाशील श्रावस्ती मॉडल के भूमि निस्तारण के तरीके में कुछ बेहतर तरीकों को शामिल करते हुए भूमि विवाद के मामलों को निस्तारण करने की प्रक्रिया को सिस्टमेटिक रूप से की जायेगी, जिसमें उप जिलाधिकारी व पुलिस क्षेत्राधिकारी की टीम, राजस्व निरीक्षक व थानाध्यक्षों की टीम तथा राजस्व लेखपाल व पुलिस कार्मिकों की टीम सप्ताह में दो बार जमीन विवाद के मामले के निस्तारण के लिए तैयार रहेंगी। जल्द ही एक माह का भूमि निस्तारण कार्यक्रम का रोस्टर तैयार किया जाय और सभी प्रक्रियाओं को कम्प्यूटराईज्ड सिस्टम से जोड़ते हुए नियमित समीक्षा की जाय। उक्त बातें जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम व पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चौधरी ने आज कलेक्ट्रेट मीटिंग हाल में भूमि विवाद के निस्तारण के प्रक्रिया को बेहतर बनाये जाने व भूमि विवाद के श्रेणीवार निस्तारण की व्यवस्था के सम्बन्ध मेंं उप जिलाधिकारियों व पुलिस अधिकारियों के साथ आयोजित समन्वय बैठक में कही।

दोनों अधिकारियों ने कहा कि जिले में भूमि विवादों के निस्तारण के लिए आगामी महीने से महीने भर की कार्ययोजना तैयार की जाय और कार्ययोजना के अनुसार लेखपाल व पुलिस कर्मियों की टीम, कानून-गो व थानाध्यक्षों की टीम तथा उप जिलाधिकारी व पुलिस क्षेत्राधिकारियों की टीम सप्ताह में दो बार जमीन विवादों के निस्तारण के लिए मौके पर जाकर पक्ष-विपक्ष दोनों की बातें को सुनेगी और जिस श्रेणी का विवाद होगा, उसे दर्ज करते हुए भूमि विवाद पर निरन्तर निगाह रखा जायेगा, जिससे कोई भी अप्रिय घटना घटित न होने पायें।

उन्होंने कहा कि टीमों द्वारा किये जा रहे कार्यों पर निगरानी जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक की टीम तथा अपर जिलाधिकारी व अपर पुलिस अधीक्षक के टीम द्वारा किया जायेगा। उन्होंने कहा कि जो जमीन के प्रकरण गंभीर होंगें, उन्हें लाल श्रेणी में रखा जायेगा और उसे सतत् निगाह रखते हुए, किसी भी अप्रिय घटना से बचाये रखना जिला प्रशासन की जिम्मेदारी होगी। अधिकारियों ने कहा कि विवादित भूमि के निस्तारण में राजस्व विभाग की रिपोर्ट, चकबन्दी विभाग की रिपोर्ट, सर्वे विभाग की रिपोर्ट, आईजीआरएस व जन शिकायतों को ध्यान में रखते हुए श्रेणी निर्धारित की जायेगी और नियमानुसार कानून व्यवस्था बनाये रखते हुए भूमि विवादों के निस्तारण की कार्यवाही आगे की जायेगी। बैठक में जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम व पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चौधरी के अलावा अपर पुलिस अधीक्षक अभयनाथ तित्राठी, उप जिलाधिकारीगण, डिप्टी कलेक्टर प्रकाश चन्द्र, जयनेन्द्र सिंह सहित जिले के जिला स्तरीय अधिकारीगण आदि मौजूद रहें।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!