बनवासी सेवा आश्रम की संस्था परिसर में,फेंकी गई कई पेटी दवाएं

22 अगस्त 2019

ख़्वाजा खान बभनी।

-सूचना पाते ही सभी दवाओं को आनन-फानन में उठवा ले गए चिकित्साधिकारी बभनी


बभनी। विकास खंड बभनी के बनवासी सेवा आश्रम गोविंदपुर के द्वारा आयुर्वेदिक चिकित्सालय संचालित की जाती है जिस परिसर में चिकित्सक कार्यालय के बगल में घास फूस है जहां गड्ढे में कई पेटी दवाओं के पैकेट व शीशियां फेंकी गई थीं जिसकी सूचना पाते ही सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधिक्षक गिरधारीलाल अपने स्वास्थ्यकर्मियों के साथ मौके पर पहुंचे और फेंकी गई सारी दवाओं को उठवा कर लेगये।

उनसे जब इस संबंध में बात किया गया तो उनका कहना था कि यह दवा काफी पुरानी है जिसके सेंपल की जांच कराई जाएगी और यह दवा कहां से आई इस बात की जानकारी मुझे नहीं है उन्होंने अनभिज्ञता जताते हुए यह भी कहा कि यह मेडिकल स्टोर या आयुर्वेद की भी हो सकती है।

लेकिन सवाल यहां ऐ उठता है कि अगर ऐ दवाएं अंग्रेजी या उनसे सम्बन्धित नहीं थी तो वो दवाओं को क्यों उठवा लेगये जबकि दवाओं पर दवाओं का नाम साफ़ साफ़ अंकित है जिसे देख कर पढ़ कर आसानी से समझा जा सकता है कि फेंकी गई दवाएं अंग्रेजी हैं या आयुर्वेदिक। इसके बाउजूद एक ज़िम्मेदार चिकित्साधिकारी का यह कहना की फेंकी गई दवाओं की जानकारी जाँच के बाद पता चलेगा कि दवाएं अंग्रेजी हैं या आयुर्वेदिक यह हास्यपद लगता है।

उपरोक्त दवाएं उक्त अस्थान पर कैसी पहुंची यह तो जाँच का विषय है। जब इस संबंध में आयुर्वेद चिकित्सक शकुंतला से संपर्क किया गया तो उन्होंने बताया कि आज मैं एक बैठक में आई हूँ और दवा के संबंध में मुझे यह पता नहीं है कि किस तरह की दवाएं फेंकी गई हैं? मैं शाम तक आने के पश्चात पता लगाउंंगी कि यह कैसी दवाएं थीं। मामला जो भी हो लेकिन इस तरह कूड़े में कई कई पेटी दवाओं का मिलना चिंता का विषय है।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!