सम्पूर्ण समाधान दिवस हुआ सम्पन्न, 6 शिकायतों का मौके पर निस्तारण

20 अगस्त 2019

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

– कुल आवेदन पत्र 213, निस्तारित 15, लम्बित मामले 198

– डीएम ने एक सप्ताह के भीतर लंबित मामलों के निस्तारण का दिया निर्देश

– डीएम ने आईजीआरएस की फीडिंग समय से न करने पर तहसील राबर्ट्सगंज से किया जवाब तलब

– डीएम ने गैर हाजिर सहायक परियोजना अधिकारी डूडा के खिलाफ कार्यवाही करने का दिया निर्देश

सोनभद्र । शासन की मंशा के अनुरूप जिले की तीनों तहसीलों में “सम्पूर्ण तहसील समाधान दिवस” का आयोजन अगस्त महीने के तीसरे मंगलवार को सम्पन्न हुआ। मंगलवार के मुख्य “सम्पूर्ण तहसील समाधान दिवस” में शासन के निर्देशानुसार तहसील दिवसों में सभी विभागों के अधिकारियों द्वारा नेमप्लेट प्रदर्शन के साथ स्टाल लगायें गये, जिसमें मौके पर मामले को निस्तारित करने के साथ ही ग्राम पंचायत स्तरीय व क्षेत्रीय अधिकारियों व कर्मचारियों की अधिकाधिक टीम बनाकर तहसील दिवस के बाद मौके पर जाकर ज्यादा से ज्यादा मामले निस्तारित करने का लक्ष्य था। जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम ने विभागीय अधिकारियों के लगे स्टालों का जायजा लेते हुए आवश्यक निर्देश दिया और फरियादियों के कतार के बीच जाकर दुःखहारियों के दुःख-दर्द को सुना।

आईजीआरएस की फीडिंग समय से न करने पर तहसील राबर्ट्सगंज से जवाब तलब किया जाय और लापरवाह गैर हाजिर सहायक परियोजना अधिकारी डूडा के खिलाफ कार्यवाही की जाय। जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम ने मुख्य “सम्पूर्ण तहसील समाधान दिवस” राबर्ट्सगंज में मौजूद जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वे तहसील समाधान दिवसों व कार्यालय दिवसों में प्राप्त मुलाकाती जन शिकायतों का तत्काल गुणवत्ता पूर्ण निस्तारण करना सुनिश्चित करें, जिससे जिले स्तर पर कम से कम जन शिकायतें प्रस्तुत हों। जिलाधिकारी ने सभी कार्यालयाध्यक्षों का दायित्वबोध कराते हुए कहा कि वे संजीदगी के साथ जन समस्याओं का निस्तारण करें। उन्होंने लम्बित प्रकरणों की समीक्षा करते हुए तीन दिनों के अन्दर लम्बित प्रकरणों को निस्तारित करने के निर्देश सम्बन्धितों को दिया। जिलाधिकारी ने मौके पर मौजूद जिला स्तरीय अधिकारियो को आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि विकास विभाग से जुड़ी शिकायतें जैसे जन कल्याणकारी व विकास परक कार्यक्रमों पर विशेष ध्यान देते हुए समस्याओं के निदान के सम्बन्ध में समय से कार्यवाही करें।

जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम, मुख्य विकास अधिकारी अजय कुमार द्विवेदी, अपर पुलिस अधीक्षक ओ0पी0 सिंह ने इस अवसर पर कुल 213 शिकायतें सुनते हुए मौके पर ही 09 मामलें निस्तारित हुए। 06 टीमें बनाकर भेजी गयी और टीमों द्वारा भी 6 मामले निस्तारित किये गये। इस प्रकार कुल 15 मामले निस्तारित हुए और शेष 198 मामले एक सप्ताह के अन्दर निस्तारित करने के निर्देश सम्बन्धितों को दिया। मुख्य तहसील “तहसील सम्पूर्ण समाधान दिवस” में जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम, मुख्य विकास अधिकारी अजय कुमार द्विवेदी, अपर पुलिस अधीक्षक ओ0पी0 सिंह, उप जिलाधिकारी सदर यमुनाधर चौहान, तहसीलदार विकास पाण्डेय, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 एस0पी0 सिंह, जिला विकास अधिकारी रामबाबू त्रिपाठी त्रिपाठी, परियोजना निदेशक आर0एस0 मौर्या, जिला स्तरीय अधिकारीगण समेत अन्य सम्बन्धितगण मौजूद रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!