महाविद्यालय में छात्रों ने बैक एवं इंप्रूवमेंट की फीस वृद्धि को लेकर प्राचार्य को सौंपा ज्ञापन

20 अगस्त 2019

कृपा शंकर पांडेय (संवाददाता)

ओबरा । मंगलवार को महाविद्यालय में बैक एवं इंप्रूवमेंट की फीस वृद्धि को लेकर प्राचार्य को ज्ञापन सौंपा गया। जिसमें छात्रसंघ अध्यक्ष हिमांशु यादव एवं छात्र नेता अखिलेश यादव ने कहा कि हमारा महाविद्यालय एक आदिवासी एवं पिछड़ा क्षेत्र में हैं जहां पर छात्र-छात्राएं बहुत दूर- दराज क्षेत्र से पढ़ने लिखने आते हैं। जो अति सामान्य किसान, मजदूर परिवार से आते हैं हमारा महाविद्यालय जिले का सबसे बड़ा महाविद्यालय हैं। जिसमें छात्र-छात्राएं अपने भविष्य के निर्माण के लिए आते हैं तथा महाविद्यालय एवं विश्वविद्यालय प्रशासन लगातार मनमानी ढंग से फीस बढ़ा रही हैं पहले प्रवेश शुल्क में बढ़ाया गया फीस अब बैक और इंप्रूवमेंट में बढ़ाया गया जो यह कतई बर्दाश्त के बाहर है। इस तानाशाही की वजह से गरीब एवं पिछड़े आदिवासी क्षेत्र के छात्र-छात्राएं पढ़ने में असमर्थ हैं। अतः बैक एवं इंप्रूवमेंट की बढ़ी हुई फीस का विरोध करते हैं तथा पूर्व में लिए जा रहे हैं ₹700 को यथावत करने की अपील करते हैं।

छात्र नेता सत्येंद्र एवं छात्र नेता हरजोत सिंह मोगा ने कहा कि हमारा जिला सोनभद्र चार राज्यों से घिरा हुआ जिसमें आदिवासी बहुल एवं पिछड़ा क्षेत्र के छात्र-छात्राएं हमारे महाविद्यालय में पढ़ने आते हैं विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से बैक एवं इंप्रूवमेंट की फीस तय ₹700 से बढ़ा कर 1200 रुपए वसूलने कि तैयारी कि जा रही है जिसका हम छात्र-छात्राएं पुरजोर विरोध करते हैं एवं महाविद्यालय विश्वविद्यालय प्रशासन की कड़ी निंदा करते हैं हम विश्वविद्यालय प्रशासन एवं महाविद्यालय प्रशासन से अपील करना चाहते हैं कि जल्द से जल्द बढ़ी हुई फीस को वापस करे अन्यथा के स्वरूप में एक उग्र आंदोलन को बाध्य होंगे जिसका जिम्मेदार खुद महाविद्यालय एवं विश्वविद्यालय प्रशासन होगा इसकी सारी जिम्मेदारी स्थानीय प्रशासन की होगी मौके पर मौजूद रहे। प्रमोद कुमार, महेश यादव, महेंद्र, अनिकेत, शिवम शर्मा शुभम व अन्य छात्र नेता मौजूद थे ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!