यूनिसेफ के पदाधिकारियों के साथ जिलाधिकारी ने किया समीक्षा बैठक

19 अगस्त 2019

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । यूनिसेफ के पदाधिकारीगण स्वास्थ्य, शिक्षा, बाल विकास, स्थानीय रोजगार आदि पर विशेष ध्यान दें। मुख्य चिकित्साधिकारी समन्वय स्थापित कर संस्थागत प्रसव की संख्या बढ़ाने के लिए जन जागरूकता अभियान चलायें। जब संस्थागत प्रसव होंगें, तो वह यकीनन सरकारी लाभ के साथ ही जच्चा व बच्चा दोनों स्वस्थ्य व सुखी रहेंगें। उक्त बातें जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम ने यूनिसेफ के पदाधिकारियों को दायित्वबोध कराते हुए कहा।

जिलाधिकारी ने कहा कि जन जागरूकता से ही योजनाएं सफल होती हैं, लिहाजा जन स्वास्थ्य के लिए गर्भावस्था से लेकर प्रसव तक गर्भवती महिलाओं व बच्चों की स्थिति पर विषेष ध्यान दिया जाय। उन्होंने कहा कि मॉ व बच्चा स्वस्थ्य होंगें, तो यकीनन स्वस्थ्य समाज का स्थापना होगा और चतुर्दिक विकास के लिए नागरिक सक्षम होंगें। उन्होंने कहा कि कोशिष हो कि सभी विभाग आपसी समन्वय के साथ जच्चा-बच्चा व बाल विकास के लिए टीम भावना से काम करते हुए बाल कल्याण के लिए आगे बदें समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम के अलावा मुख्य चिकित्साधिकारी व यूनिसेफ के पदाधिकारीगण मौजूद रहें।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!