जिलाधिकारी ने किया मेडिलकल असेसमेन्ट कैम्प के तैयारियों की समीक्षा

19 अगस्त 2019

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । प्रदेश की लोकप्रिय सरकार आम जनमानस के साथ ही परिषदीय स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों के बेहतर स्वास्थ्य के लिए संजीदा है, लिहाजा बेसिक षिक्षा विभाग अन्य विभागों से समन्वय स्थापित कर बच्चों का सर्वे 22 अगस्त 2019 तक करायें। चिन्हित बच्चों के स्वास्थ्य सुविधाओं के साथ ही जरूरत के मुताबिक करेक्टिव सर्जरी की व्यवस्था स्वास्थ्य विभाग व जिला दिव्यांगजन कल्याण विभाग के सहयोग से किया जाय। उक्त निर्देश जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम ने परिषदीय स्कूलों में मेडिकल असेसमेन्ट कैम्प के तैयारियों के बारे में समीक्षा करते हुए दिए। जिलाधिकारी ने कहा कि बच्चे किसी के हों, सभी बच्चों में प्रकृति की चेतना होती है, जिन बच्चों में स्वास्थ्य की कमी होती है, वे आगे नहीं बढ़ पाते। स्वास्थ्य के साथ ही पीडित बच्चे का बौद्धिक विकास भी रूक जाता है, लिहाजा परिषदीय स्कूलों के साथ ही सभी बच्चों का चिन्हांकन का कार्य बेसिक शिक्षा विभाग, बाल विकास व स्वास्थ्य विभाग से समन्वय स्थापित करते हुए करें और जरूरत के मुताबिक बच्चों का दवा इलाज कराकर बच्चों का बेहतर स्वास्थ्य मुहैया कराया जाय। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम को नियमित रूप से क्रियाशील रखा जाय और कोशिश किया जाय कि 0 से 3 वर्ष तक के बच्चों का सर्वे चिन्हांकन कर ब्लाकवार कार्यक्रम निर्धारित किया जाय।

उन्होंने कहा कि पूर्व के करेक्टिव सर्जरी का औसत काफी कम है। लिहाजा सभी पात्रों का चिन्हांकन कर लाभान्वित किया जाय। इस मौके पर जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम के अलावा मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 एस0पी0 सिंह, जिला विद्यालय निरीक्षक फूलचन्द यादव, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डॉ0 गोरखनाथ पटेल, जिला कार्यक्रम अधिकारी अजीत सिंह, जिला प्रोबेशन अधिकारी, खण्ड शिक्षा अधिकारीगण सहित अन्य सम्बन्धितगण मौजूद रहें।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!