अनुच्छेद 370 पर पहली बार बोले पीएम मोदी, कहा – ऐतिहासिक फैसला

08 अगस्त2019

पीएम मोदी ने अपने दूसरे कार्यकाल में पहली बार देश की जनता को संबोधित किया । इस दौरान उन्होंने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के हटने और जम्मू-कश्मीर और लद्दाख दो केंद्र शासित बनाने के फैसले पर चर्चा की । उन्होंने इस फैसले को ऐताहिसक बताया और कहा कि इससे जम्मू-कश्मीर और लद्दाख का विकास होगा । वहां के युवाओं को मौका मिलेगा । उन्होंने कहा कि सरदार वल्लभ भाई पटेल, बाबा साहेब आंबेडकर, श्यामा प्रसाद मुखर्जी और अटल बिहारी वाजयपेयी का जो सपना था वो आज पूरा हो गया । पीएम मोदी ने देशवासियों को इसके लिए बधाई दी । बकरीद की शुभकामनाएं देते हुए पीएम मोदी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में ईद मनाने में वहां के लोगों को परेशानी न हो । साथ ही उन्होंने कहा कि देश में लागू कई बड़े कानून जम्मू-कश्मीर में लागू नहीं था जो यहां के लोगों के अधिकारों से वंचित करता था ।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारे देश में कोई भी सरकार हो, वो संसद में कानून बनाकर, देश की भलाई के लिए काम करती है । किसी भी दल की सरकार हो, किसी भी गठबंधन की सरकार हो, ये कार्य निरंतर चलता रहता है । कानून बनाते समय काफी बहस होती है, चिंतन-मनन होता है, उसकी आवश्यकता को लेकर गंभीर पक्ष रखे जाते हैं ।

अनुच्छेद 370 की आलोचना करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि इस प्रक्रिया से गुजरकर जो कानून बनता है, वो पूरे देश के लोगों का भला करता है, लेकिन कोई कल्पना नहीं कर सकता कि संसद इतनी बड़ी संख्या में कानून बनाए और वो देश के एक हिस्से में लागू ही नहीं हों ।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू-कश्मीर में देश के सभी हिस्सों में लागू कानून के नहीं लागू होने पर चिंता जताई. जम्मू-कश्मीर से 370 के खात्मे के बारे में उन्होंने कहा कि देश के अन्य राज्यों में सफाई कर्मचारियों के लिए सफाई कर्मचारी एक्ट लागू है, लेकिन जम्मू-कश्मीर के सफाई कर्मचारी इससे वंचित थे । देश के शेष अन्य राज्यों में दलितों पर अत्याचार रोकने के लिए सख्त कानून लागू है, लेकिन जम्मू-कश्मीर में ऐसा नहीं था ।

इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन की शुरुआत में कहा कि एक राष्ट्र के तौर पर, एक परिवार के तौर पर, आपने, हमने, पूरे देश ने एक ऐतिहासिक फैसला लिया है । एक ऐसी व्यवस्था, जिसकी वजह से जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के हमारे भाई-बहन अनेक अधिकारों से वंचित थे, जो उनके विकास में बड़ी बाधा थी, वो अब दूर हो गई है ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!