सर्व शिक्षा अभियान को अध्यापक लगा रहे पलीता,गुरु जी नदारद रसोईयां कराती है शिक्षण कार्य

08 अगस्त 2019

उमेश कुमार शर्मा ब्यूरो

सिंगाही खीरी। सूबे की सरकार जहाँ सब पढे और सब बढे का नारा देकर सर्व शिक्षा अभियान को बल देने के लिये ग्रामीण क्षेत्रों में सब पढ़े सब बढ़ें पर करोड़ों रुपयों को खर्च कर शिक्षा व्यवस्था को अधुनिक सुविधाओं से लेस कर प्राथमिक शिक्षा को पटरी पर लाने के लिये प्रयासरत है वहीं विकास खण्ड निघासन क्षेत्र में खण्ड़ शिक्षा अधिकारी के सुपर बिजन व खराब मैनेजमेंट के कारण अधिकतर स्कूलों में गुरु जी शिक्षण कार्य करने नहीं जाते है जिससे सर्व शिक्षा अभियान को पलीता लगाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं ताजा मामला विकास खण्ड निघासन के पछपेड़ा रिछिया प्राथमिक विद्यालय का है जहां गुरु जी की घोर लापरवाही सामने आयी है यहां गुरु जी की जगह रसोईया अध्यापक बनकर बच्चों को पढ़ा रही है लापरवाह गुरु जी नदारद रहते है गांव के लोग बताते हैं गुरु जी न तो विद्यालय समय से नहीं आते है और यदि आते भी है तो आपस मे झगड़ते हैं शिक्षण कार्य की जिम्मेदारी रसोईया को सौंप कर विद्यालय से फुर्र हो जाते हैं मिली जानकारी के अनुसार प्राथमिक विद्यालय में दो अध्यापक तैनात हैं उसके बावजूद भी रसोईया बच्चों को पढ़ाती हैं अब ऐसे में सर्व शिक्षा अभियान कैसे पूरा होगा गुरु जी की लापरवाही के चलते प्राथमिक विद्यालय में पढ़ने वाले बच्चों का भविष्य अधर में लटका हुआ है सम्बन्धित जिम्मेदारों की आंखों पर कमीशन का चश्मा चढ़ा है जिसके चलते सब पढ़ें सब बढ़ें मिशन को ग्रहण लगता दिखाई दे रहा है।

इस सम्बंध में जब स्थानीय खण्ड शिक्षा अधिकारी निघासन दिनेश वर्मा बात की गई तो उन्होंने बताया की यदि ऐसा हो रहा है की रसोईया बच्चों को पढ़ा रही तो यह नियमविरुद्ध है वहां पर दो अध्यापक तैनात है मामले की जांच करायी जायेगी।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!