जम्मू-कश्मीर पर बौखलाया पाकिस्तान, द्विपक्षीय व्यापार को किया सस्पेंड

07 अगस्त 2019

जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म किए जाने और राज्य के पुनर्गठन से पाकिस्तान बौखला गया है। पाकिस्तान ने भारत के साथ द्विपक्षीय व्यापार को सस्पेंड कर दिया है। इसके अलावा उसने भारत के साथ डिप्लोमैटिक रिलेशंस को डाउनग्रेड कर दिया है यानी राजनयिक संबंध का दर्जा घटा दिया है। इसके तुरंत बाद इस्लामाबाद ने भारतीय उच्चायुक्त अजय बिसारिया को भारत लौटने के लिए कह दिया है। फिलहाल भारत में पाकिस्तान का कोई उच्चायुक्त नहीं है। वह इसी महीने नई दिल्ली में उच्चायुक्त भेजने वाला था लेकिन अब नहीं भेजेगा।

पाकिस्तान ने इस्लामाबाद में भारत के उच्चायुक्त अजय बिसारिया को भी भारत वापस भेजने, साथ ही दिल्ली से अपने उच्चायुक्त को वापस बुलाने का फैसला किया है । पाकिस्तान के विदेश मंत्री महमूद कुरैशी ने एआरवाई न्यूज़ से बात करते हुए कहा, ”हमारे उच्चायुक्त नई दिल्ली में लंबे समय से नहीं हैं. उनके (भारत) उच्चायुक्त को हम वापस भेजेंगे।” पाकिस्तान ने कहा है कि वह कश्मीर पर लिए गए भारत के ताजा फैसले को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) में उठाएगा ।

बता दें कि भारत ने संविधान के अनुच्छेद 370 के उन प्रावधानों को खत्म कर दिया है जिसके तहत जम्मू-कश्मीर को कई तरह के विशेषाधिकार मिले हुए थे। इसके अलावा राज्य को 2 केंद्रशासित भागों- जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में बांट दिया गया है। इससे पाकिस्तान तिलमिलाया हुआ है और लगातार भारत के खिलाफ भड़काऊ बयान दे रहा है।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने मंगलवार को संसद में कहा था कि कश्मीर पर लिए गए फैसलों के बाद भारत में पुलवामा जैसे हमले हो सकते हैं। उन्होंने यहां तक कहा कि इससे परमाणु हथियार से संपन्न दोनों पड़ोसियों के बीच मौजूदा तनाव में युद्ध जैसी स्थिति पैदा हो सकती है। पाकिस्तान सरकार में मंत्री फवाद चौधरी तो इमरान से भी एक कदम आगे बढ़ते हुए बुधवार को कहा कि पाकिस्तान को भारत के खिलाफ युद्ध से नहीं डरना चाहिए। चौधरी ने कहा कि पाकिस्तान को अपमान और युद्ध में से किसी एक को चुनना होगा। उन्होंने भारत के साथ द्विपक्षीय रिश्तों को पूरी तरह से खत्म करने की भी मांग की।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!