उत्तर कोरिया ने किम की निगरानी में किया रॉकेट लॉन्चर सिस्टम का टेस्ट

4 अगस्त 2019

उत्तर कोरिया ने कहा है कि उनके नेता किम जोंग उन की निगरानी में एक नये ‘मल्टीपल रॉकेट लॉन्चर सिस्टम’ का परीक्षण किया गया है जो दक्षिण कोरिया और अमेरिका के सैन्य ठिकानों पर हमले की क्षमता को बढ़ा सकता है। उत्तर कोरिया की आधिकारिक ‘कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी ने शनिवार को इसकी जानकारी दी।

गौरतलब है कि एक दिन पहले दक्षिण कोरिया की सेना ने कहा था कि उत्तर कोरिया ने अपने पूर्वी तट से समुद्र में बृहस्पतिवार देर रात दो बार अज्ञात प्रोजेक्टाइल (एक तरह की मिसाइल) प्रक्षेपित किए। महज एक हफ्ते में उत्तर कोरिया का यह तीसरा हथियार प्रक्षेपण है। उत्तर कोरिया ने कहा है कि किम की निगरानी में बुधवार (31 जुलाई) को इसी रॉकेट प्रणाली का पहला परीक्षण किया था।

विशेषज्ञों का कहना है कि अमेरिका-दक्षिण कोरिया के बीच होने वाले सैन्य अभ्यास और अमेरिका के साथ ठप पड़ी परमाणु वार्ता को लेकर उत्तर कोरिया अपनी हताशा का प्रदर्शन कर रहा है। यदि अगले कुछ महीनों में वार्ता तेजी से आगे नहीं बढ़ती है तो उसके हथियार परीक्षणों की गति और तेज हो सकती है। केसीएनए ने कहा कि किम ने शुक्रवार के परीक्षणों पर संतोष व्यक्त किया, जिसमें कहा गया कि प्रणाली के पास ऊंचाई पर नियंत्रण के साथ उड़ान भरने, ट्रैक बदलने की क्षमता, लक्ष्य को भेदने की सटीकता और निर्देशित आयुध रॉकेट की विस्फोटक शक्ति है।

गौरतलब है कि दक्षिण कोरिया की सेना ने कहा था कि उत्तर कोरिया ने अपने पूर्वी तट से समुद्र में बृहस्पतिवार (1 अगस्त) देर रात दो बार अज्ञात प्रोजेक्टाइल प्रक्षेपित किए। महज एक हफ्ते में उत्तर कोरिया का यह तीसरा हथियार प्रक्षेपण है। सियोल के ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ ने कहा कि प्रक्षेपण पूर्वी तटीय क्षेत्र से देर रात 2:59 बजे और 3:23 बजे किया गया। उत्तर कोरिया ने 25 जुलाई को कम दूरी की दो बैलिस्टिक मिसाइलें प्रक्षेपित की थी।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!