खनन विभाग, वन विभाग व राजस्व विभाग की संयुक्त छः टीमें करेंगी वन भूमि का सर्वेक्षण

02 अगस्त 2019

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । आयुक्त विन्ध्याचल मण्डल-मीरजापुर आनन्द कुमार सिंह, प्रधान मुख्य वन संरक्षक, उत्तर प्रदेश पवन कुमार, निदेशक भूतत्व एवं खनिकर्म विभाग रौशन जैकब, मुख्य वन संरक्षक विन्ध्याचल श्री झा, जिलाधिकारी अंकित कुमार अग्रवाल आदि वरिष्ठ अधिकारियों की मौजूदगी में वन भूमि के बन्दोबस्त पर विचार-विमर्श हेतु एक आवश्यक बैठक आहूत की गयी। वन भूमि के बन्दोबस्त पर विचार-विमर्श हेतु एक आवश्यक बैठक में तय किया गया कि खनन विभाग, वन विभाग व राजस्व विभाग की संयुक्त टीम बनाकर वन भूमि के बन्दोबस्त के लिए छः टीमें बनायी जाय, जिसमें पांच टीमें खनन के महत्वपूर्ण क्षेत्र के ग्राम सभा बिल्ली-मारकुण्डी के सर्वेक्षण के लिए लगायी जाय और एक टीम ग्राम ससनई के सर्वेक्षण के लिए लगायी जाय। बैठक में खनन क्षेत्र/ग्राम सभा की जमीनों, वन क्षेत्र की जमीनों के नवैयत पर चर्चा की गयी और नियमानुसार कार्यवाही अमल में लाने पर विचार-विमर्श किया गया। निदेशक भूतत्व एवं खनिकर्म रौशन जैकब, प्रधान मुख्य वन संरक्षण उत्तर प्रदेश पवन कुमार के साथ ही जिले के प्रभारी वनाधिकारीगणों ने वन भूमि के बन्दोबस्त पर विस्तार से प्रकाश डाला।

इस मौके पर मुख्य खान अधिकारी एस0के0 सिंह, खान अधिकारी के0के0 राय, एआरओ/बन्दोबस्त अधिकारी राज कुमार के साथ ही जिला शासकीय अधिवक्ता आदि ने अपने विचार व्यक्त किये और नियमानुसार कार्यवाही अमल में लाने की सहमति के साथ ही सर्वेक्षण के लिए छः टीमों का गठन करने का निर्णय लिया गया और गठित टीम द्वारा त्रुटि रहित रिपोर्ट जल्द से जल्द प्रस्तुत करने की कार्ययोजना बनी। इस मौके पर आयुक्त विन्ध्याचल मण्डल मीरजापुर आनन्द कुमार सिंह, प्रधान मुख्य वन संरक्षक-उत्तर प्रदेश पवन कुमार, निदेशक भूतत्व एवं खनिकर्म विभाग रौशन जैकब, मुख्य वन संरक्षक विन्ध्याचल श्री झा, जिलाधिकारी अंकित कुमार अग्रवाल, अपर जिलाधिकारी योगेन्द्र बहादुर सिंह,वरिष्ठ खान अधिकारी एस0के0 सिंह, खान अधिकारी के0के0 राय, सर्वेयर जी0के दत्ता, तहसीलदार सदर विकास पाण्डेय, वन विभाग के अधिकारीगण, सर्वे विभाग के अधिकारीगण सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण मौजूद रहें।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!