प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के अन्तर्गत जनपद के 10 ग्राम चयनित-मुख्य विकास अधिकारी

25 जुलाई 2019
दीनदयाल शास्त्री ब्यूरो

पीलीभीत । मुख्य विकास अधिकारी रमेश चन्द्र पाण्डेय की अध्यक्षता में प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के अन्तर्गत वित्तीय वर्ष 2019-20 में जनपद के चयनित 10 ग्रामों में विभिन्न विभागों द्वारा संचालित की जाने वाली योजनाओं को लागू करने की रूपरेखा की तैयारियों से सम्बन्धित बैठक गांधी सभागार में सम्पन्न हुई। प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के अन्तर्गत जनपद 10 ग्राम जिसमें मरौरी ब्लाक से महोफ व कंजा हरैया, ब्लाक अमरिया से टांडा विजैसी सहराई, ब्लाक ललौरीखेडा से भगवन्तपुर बझेडा, ब्लाक पूरनपुर से सुआबोझ, मटेना ताल्लुक घुंघचिहाई, मैनाकोट, चाॅट फिरोजपुर, विकासखण्ड बिलसण्डा से ग्राम घनश्यामपुर ग्रामों का चयन किया गया है। जिसमें जनपद में संचालित प्रमुख 10 योजनाऐं जिसमें पेयजल एवं स्वच्छता, शिक्षा, स्वास्थ्य एवं पोषण, सामाजिक सुरक्षा, ग्रामीण मार्ग एवं आवास, बिजली एवं स्वच्छ ईधन, कृषि पद्वतियां आदि, वित्तीय समावेशन, डिजिटलीकरण, आजीविका एवं कौशल विकास आदि को लागू किया जाना है।
आयोजित बैठक में मुख्य विकास अधिकारी द्वारा उपरोक्त योजनाओं से सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि चयनित सभी ग्रामों में प्राथमिकता के आधार पर योजनाओं को लागू किया जाना है, इस सम्बन्ध में सभी विभागाध्यक्ष, जिला समाज कल्याण अधिकारी द्वारा निर्धारित प्रारूपों पर योजनाओं की रूपरेखा तैयार कर सम्बन्धित ग्रामों के खण्ड विकास अधिकारियों को उपलब्ध करायेगें और खण्ड विकास अधिकारी सभी योजनाओं को सम्मिलित करते हुये योजना लागू करने का प्रारूप तैयार समाज कल्याण विभाग को उपलब्ध करायेगें। योजनाओं से सम्बन्धित समस्त अधिकारी ग्रामों में सर्वेक्षण के उपरान्त निर्धारित प्रारूप पर योजना को लागू करने हेतु रूपरेखा उपलब्ध कराने के उपरान्त योजना को लागू किया जायेगा। सभी अधिकारी नियमित अपनी अपनी योजनाओं की समीक्षा करेगें तथा जिला स्तर पर भी प्रति माह योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की जायेगी। योजना का मुख्य उद्देश्य लोगों को शत-प्रतिशत लाभ पहुंचाया जाना है। इसके साथ ही साथ बैठक में आज मुख्य विकास अधिकारी द्वारा समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित छात्रवृत्ति, पेंशन, सामूहिक विवाह योजना की भी समीक्षा की गई।
बैठक में जिला विकास अधिकारी योगेन्द्र पाठक, परियोजना निदेशक अनिल कुमार, डीसी मनरेगा मृणाल सिंह, प्रभारी जिला समाज कल्याण अधिकारी के0पी0सिंह, जिला विद्यालय निरीक्षक, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी देवेन्द्र स्वरूप, समस्त खण्ड विकास अधिकारी सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!