सुमंगला योजना के तहत कन्याओं की सुरक्षा को दिया जायेगा बढ़ावा- मुख्य विकास अधिकारी

25 जुलाई 2019

दीनदयाल शास्त्री ब्यूरो

पीलीभीत । मुख्य विकास अधिकारी रमेश चन्द्र पाण्डेय की अध्यक्षता में जिला महिला कल्याण विभाग द्वारा संचालित कन्या सुमंगला योजना को जनपद में वृहत स्तर पर लागू करने के सम्बन्ध में समीक्षा बैठक गांधी सभागार में सम्पन्न हुई। बैठक में जिला प्रोबेशन अधिकारी द्वारा योजना के सम्बन्ध में जानकारी देते हुये कहा कि योजना का मुख्य उद्देश्य कन्या भ्रूण हत्या को समाप्त करना, समान लैंगिक अनुपात स्थापित करना, बाल विवाह की कुप्रथा को रोकना, बालिकाओं के स्वास्थ्य एवं शिक्षा को प्रोत्साहन देना, बालिकाओं को स्वावलम्बी बनाने में सहायता करना, बालिका के जन्म के प्रति समाज में सकारात्मक सोंच विकसित करना है। इस योजना के अन्तर्गत बालिका के जन्म पर रू0 2000 एक मुश्त, द्वितीय श्रेणी बालिका के एक वर्ष तक पूर्ण टीकाकरण उपलब्ध पर रू0 1000 एक मुश्त, तृतीय श्रेणी कक्षा प्रथम में बालिका के प्रवेश के उपरान्त रू0 2000 एक मुश्त, चतुर्थ श्रेणी कक्षा छः में बालिका के प्रवेश के उपरान्त रू0 2000 एक मुश्त, पंचम श्रेणी कक्षा नौ में बालिका के प्रवेश के उपरान्त रू0 3000 एक मुश्त एवं षष्टम श्रेणी ऐसी बालिकायें जिन्होंने 12 वीं उत्तीर्ण करके स्तानक अथव 02 वर्षीय या अधिक अवधि के डिप्लोम कोर्स में प्रवेश लिया हो रू0 5000 एक मुश्त धनराशि प्रदान की जायेगी।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी द्वारा योजना को वृहत स्तर पर लागू करने हेतु जिला बेसिक शिक्षा विभाग, स्वास्थ्य विभाग, बाल विकास विभाग द्वारा अपने यहां संचालित योजनाओं के अन्तर्गत आने वाली बेटियों को इस योजना का लाभ पहुचायें, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी अपने यहां पहली बार में पंजीकृत बेटियों को योजना का लाभ पहुंचाना सुनिश्चित करेगें। इसी तरह स्वास्थ्य विभाग द्वारा टीकाकरण व बाल विकास पुष्टाहार द्वारा इस योजना का लाभ प्रदान करेगें। जिला विद्यालय निरीक्षक द्वारा उच्च कक्षाओं में प्रवेश लेने वाली छात्राओं को भी इस योजना का लाभ प्रदान करेगें। योजना के मानकों का विवरण जिला प्रोबेशन अधिकारी द्वारा समस्त अधिकारियों को उपलब्ध कराने निर्देश दिये गये।
बैठक में जिला विकास अधिकारी योगेन्द्र पाठक, परियोजना निदेशक अनिल कुमार, डीसी मनरेगा मृणाल सिंह, प्रभारी जिला समाज कल्याण अधिकारी के0पी0सिंह, जिला विद्यालय निरीक्षक, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी देवेन्द्र स्वरूप, समस्त खण्ड विकास अधिकारी सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!