बांकेबिहारी ट्रस्ट की जमीन से नही हटा अवैध कब्जा , रातों रात बना दी दुकान

25 जुलाई 2019

रिविन शुक्ला (संवाददाता)

बिलसंडा (पीलीभीत) । नगर पंचायत की सभासद शालिनी देवी और आशीष सक्सेना अधिवक्ता द्वारा जिलाधिकारी सम्बोधित एक शिकायत पत्र शोसल मीडिया पर वायरल किया गया है।
वही वायरल शिकायत पत्र के माध्यम से बताया गया है कि नगर में श्री बाँके बिहारी ट्रस्ट की जमीन पर कुछ लोगों द्वारा अवैध कब्जा किया गया है।
जिसमें जिलाधिकारी को पदेयन अध्यक्ष और कस्बा बीसलपुर जनपद पीलीभीत के राकेश मित्तल को बाँके बिहारी ट्रस्ट का कार्यकारी सचिव बताया गया है।
वही सभासद द्वारा सचिव पर शह व उदासीनता का आरोप भी लगाया गया है।
जिसमें ट्रस्ट की करोड़ों की जमीन जो पुराना गल्ला मंडी में स्थित है,
जिस सम्बन्ध में अवैध कब्जा की जांच तत्कालीन उपजिलाधिकारी वन्दना त्रिवेदी द्वारा की गई थी।
और 41 दुकानें ट्रस्ट की जमीन पर कब्जा करने की बात सिद्ध साबित हुई थी।
वही दुकानदारों को चिन्हित करते हुए अग्रिम कार्यवाही अमल में लाई जा रही है,के लिए सूचित किया गया था।
वही इसी बीच एसडीएम का अन्यत्र तबादला हो गया, और अवैध कब्जे की जांच ठण्डे वस्ते में चली गई।
वही पुराना गल्ला मंडी जोकि सर्राफा बाजार में ट्रस्ट की एक मात्र खाली पड़ी जमीन जिस पर नगर पंचायत बोर्ड द्वारा ट्रस्ट की सहमति से एक सार्वजनिक सुलभ शौचालय एवं आंगनबाड़ी केंद्र बार्ड की सभासद शालिनी देवी बार्ड संख्या पांच द्वारा प्रस्तावित किया गया है,
जिस पर कस्बा के अमर वर्मा पुत्र सीताराम एवं रामकुमार वर्मा पुत्र भगवान दास निवासी सन्तोषी माता मंदिर कस्बा बिलसंडा पर अवैध कब्जा करने का भी आरोप लगाया गया है।
जहाँ नगर पंचायत की सभासद द्वारा एक कूड़ादान लगवाया गया था, जिसे भी कब्जेदारों पर उठाकर फेक देने का भी आरोप लगाया है।
जहां अवैध कब्जेदारों ने कब्जा हटाने के लिए दो दिन का समय मांगा था, वही रातों रात ट्रस्ट की जमीन पर दुकान खड़ी कर दी गई है।
कब्जा हटा नहीं कब्जा और होता चला गया।
वही शालिनी देवी सभासद और आशीष सक्सेना एडवोकेट ने जिलाधिकारी से अवैध कब्जेदारों से ट्रस्ट की जमीन से कब्जा हटवाते हुए, अवैध कब्जेदारों के बिरुद्ध एफआईआर दर्ज करवाने की मांग की है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!