जमीनी विवाद में हुई एक और हत्या, पुलिस की पुनः बड़ी लापरवाही हुई उजागर

24 जुलाई 2019

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

– जमीनी विवाद में दिनदहाड़े हुई एक और हत्या

– पुलिस की पुनः बड़ी लापरवाही हुई उजागर

– मृतक ने 04 जुलाई को एसपी कार्यालय तथा 21 जुलाई को थाने में प्रार्थना पत्र देकर लगाई थी सुरक्षा की गुहार

– भाई भतीजे के डर से अपने ससुराल में रहता था मृतक उदय

– उदय अपने बडे भाई और भतीजों के डर से पुलिस से अपनी जानमाल की सुरक्षा का लगाता रहा गुहार

– 23 जुलाई को ही उदय आया था अपने गाँव और धारदार हथियार से कर दी गयी उसकी हत्या

– भाई से जमीन बटवारा को लेकर महिनों से थाने पुलिस का चक्कर लगाता रहा

कोन । सोनभद्र में जमीनी विवाद को लेकर हत्या का सिलसला लगातार जारी है। घोरावल में जमीनी विवाद को लेकर हुए भीषण नरसंहार के बाद शासन से लेकर प्रशासन तक बैकफुट पर हैं। वहीं जगह-जगह जमीनी विवाद को लेकर प्रशासन की लापरवाही व उदासीनता की खबरें भी आ रही हैं। जानकारी के मुताबिक जमीनी विवाद को लेकर मंगलवार को दिनदहाड़े जिस तरह से एक व्यक्ति उदय पासवान (40वर्ष) पुत्र राजमन की हत्या हुई यह भी प्रशासनिक लापरवाही को पोल खोल रहा है। जानकारी के मुताबिक यह मामला भी प्रशासन की जानकारी में था और मृतक अपनी सुरक्षा को लेकर गुहार लगा चुका था।
बताया जा रहा है कि भाई और भतीजे के डर से मृतक उदय पासवान अपनी पत्नी व बच्चे के साथ अपने ससुराल खेमपुर में रहता था और आज ही अपने ससुराल से अपने गाँव हड़वरिया जमीन की पंचायत करने आया था कि पहले से ताक में बैठे मृतक के भाई और भतीजों ने धारदार हथियार से उस पर हमला बोल दिया और फरार हो गए। दिनदहाड़े हुई इस हत्या से क्षेत्र में दहशत फैल गयी, वहीं किसी ग्रामीण की सूचना पर घटना स्थल पर पहुँचे स्थानीय थाना प्रभारी ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजवाया दिया गया।

मृतक की पत्नी तारावती देवी ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा कि अगर पुलिस ने मामले को गम्भीरता से लिया होता तो शायद मेरे पति की हत्या नहीं हुई होती। मेरे पति ने 4 जुलाई को पुलिस अधीक्षक व 21 जुलाई को थाने मे तहरीर देकर अपनी जानमाल की सुरक्षा की गुहार लगाई थी लेकिन पुलिस निष्क्रिय बनी रही। हम लोग को लगातार जान से मारने की धमकी मिल रही थी जिसके डर से पिछले दो महिनों से पति और बच्चे के साथ अपने मायके में रह रही थी। मंगलवार 23 जुलाई को थाने में पंचायत के लिए बुलाहट था इसी कारण से हडवरिया आये थे और उनकी हत्या कर दिया गया।

वहीं कोन थाना प्रभारी राजेश सिंह ने कहा कि मृतक की पत्नी की तहरीर के आधार पर किशोरी पुत्र राजमन, राहुल, रोहित पुत्रगण किशोरी, अनिता पत्नी किशोरी और चंदा देवी पुत्री किशोरी के खिलाफ हत्या सहित अन्य मामलों में मुकदमा पंजीकृत कर जाँच की जा रही है।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!