उभ्भा नरसंहार पीड़ितों से मिले सपा प्रदेश अध्यक्ष, न्याय यात्रा निकाल जताया विरोध

23 जुलाई 2019

आनन्द कुमार चौबे/अंशु खत्री (संवाददाता)

सोनभद्र । आज समाजवादी पार्टी ने प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम के नेतृत्व में आज उभ्भा गोलीकाण्ड के पीड़ितों के लिए न्याय यात्रा निकाला गया। इस यात्रा में सम्मिलित होने के लिए सुबह से ही कई गैर जनपदों से भारी संख्या में कार्यकर्ता सोनभद्र पहुँचने लगे और जिला कार्यालय पर एकत्र हो गए। लेकिन जनपद में धारा144 लागू होने के कारण सपा कार्यालय को छावनी में तब्दील कर दिया गया था। सपा के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम सपा के जिला कार्यालय पहुँचने के बाद सीधे उभ्भा गाँव के लिए रवाना हो गए लेकिन पुलिस ने उनके काफिले को रोक सिर्फ कुछ गाड़ियों को ही उभ्भा गांव में जाने की इजाजत दी।

उभ्भा गाँव पहुँच सपा प्रदेश अध्यक्ष ने सामूहिक नरसंहार पीड़ितों से मुलाकात की और उनका दर्द बाँटने की कोशिश की। इधर सपा जिला कार्यलय पर कार्यकर्ता उग्र होने लगे और तहसील पहुँचने के लिए रैली की शक्ल में रवाना हो गए। जैसी ही सपाई सदर तहसील जाने के लिए कार्यालय से बाहर निकले तो मौके पर पहले से ही मौजूद पुलिस फोर्स ने उन्हें घेर लिया और आगे बढ़ने से रोकने लगे।

लेकिन सपाईयों ने पुलिस द्वारा लगायी गयी बैरकेडिंग तोड़ते हुए आगे बढ़ने लगे। उरमौरा पहुँच सपाईयों ने वाराणसी-शक्तिनगर मुख्यमार्ग जाम कर दिया और सड़कों पर लेट गए जिससे जाम में स्कूली बसें और कई एम्बुलेंस फँस गयी। एक बार फिर सपाई आगे बढ़ने लगे तो पुलिस ने उन्हें रोकने का प्रयास किया जिस पर पुलिकर्मियों और सपाईयों में तीखी नोक-झोंक भी हुई। इस दौरान सपाईयों को रोकने में पुलिस फोर्स बेबस नजर आ रही थी।

सदर तहसील की तरफ बढ़ रहे सपाईयों को आखिरकार पुलिस फोर्स ने डीएम और एसपी4 के नेतृत्व में कुछ दूर पहले ही रोक लिया। तब तक वहाँ पहुँचे सपा प्रदेश अध्यक्ष ने जिलाधिकारी अंकित कुमार अग्रवाल को राज्यपाल नामित ज्ञापन सौंप कार्यक्रम का समापन कर दिया।

इस दौरान जिलाधिकारी ने बताया कि सपा के प्रदेश अध्यक्ष ने अपना ज्ञापन सौंप दिया है, जिसे शासन को भेज दिया जाएगा, इसके साथ ही सपाजनों का प्रदर्शन भी समाप्त हो गया है।

प्रदर्शन के बाद पत्रकारों से रूबरू होते हुए सपा प्रदेश अध्यक्ष राम नरेश उत्तम ने कहा कि उभ्भा गांव की घटना सपा की कानून व्यवस्था का विफलता दर्शाता है। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि सीएम योगी अपनी कमी को छिपाने के लिए दूसरे पर ठीकरा फोड़ते हैं। यूपी में कोई सुरक्षित नहीं है, कानून व्यवस्था फेल है, सरकार संवेदनहीन है यही दर्शाता है।

उभ्भा नरसंहार पर सपा नेता और वाराणसी लोकसभा से मोदी के खिलाफ चुनाव की प्रत्याशी शालिनी यादव ने पत्रकारों को बताया कि नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से महज कुछ दूरी पर देश को दिल दहला देने वाली घटना होती है और देश के प्रधानमंत्री का कोई बयान नही आता। अगर प्रधानमंत्री इस समस्या पर वहीं से बैठ कर कुछ निर्णय ले लिए होते तो समस्या का समाधान हो जाता।

वहीं बीएसएफ के पूर्व फौजी तेज बहादुर यादव ने कहा कि सपा के मुखिया के निर्देशों पर उभ्भा गांव के पीड़ितों को न्याय दिलाने के लिए हम लोग यहाँ इकट्ठा हुए हैं।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!