गरीबों कि फरियाद बनाम नेता का फोन : सोनभद्र अभी जिसका जिंदा ताजा उदाहरण है

21 जुलाई 2019

अबुलकैश ब्यूरो

लंगड़ा चुनाव आयोग ‘ बहरी सरकार ‘ गूंगे अधिकारी ‘ औऱ अपाहिज कानून प्रणाली से भारत में अब ना तो गरीबों किसानों असहायों का भला होगा औऱ ना हि भारत का : अंजनी सिंह

धानापुर। किसान नेता अंजनी सिंह के नेतृत्व में आज नवगठित किसान युवा शक्ती के कार्यकर्ताओं महिला शक्ती प्रकोष्ठ कि एक आकस्मिक बैठक सम्पन्न हुई। जिसमें सोनभद्र में हुवे नरसंहार को लेकर सरकारी व्यवस्था की घोर निंदा कि गईं । अंजनी सिंह ने महिलाओं के ऊपर हुवे हमले कि घोर भर्त्सना की कहा की धीरे धीरे उत्तर प्रदेश का पूरा का पूरा माहौल असंवेदनशील होते जा रहा है । गाँव का गरीब किसान कमजोर के पास संवैधानिक अधिकार है आज वही पीड़ित महज मात्र एक मतदाता बन कर राह गया है। औऱ कुछ नहीं जिसे अधिकारियों कर्मचारियों से अपनी फरियाद सुनाने के पहले एक बडे़ नेता के फोन कराने की सेटिंग करती पड़ती है कारण आज वर्तमान दौर में भारत का हर कमजोर असहाय चौतरफा धनबलियों बाहुबलियों सत्ता के कब्जेदारों के चक्रव्यू में फँस चुका है। बैठक में यह भी तय हुवा की जिस प्रकार मोदी जी आम जनता से मन की बात करते हैं। ठीक उसी भाँति अब देश के किसानों नौजवानों महिलाओं सबके हित में मोदी जी से मुद्दे की बात होगी। इस संदर्भ में जिलाअधिकारी को भी अवगत कराया जायेगा।

बैठक में सदानंद खरवार ‘ पिंटू खरवार विजयी रामवरन राम विनोद पांडे उमेश शर्मा बबलू सिंह रोहित मुकेश दिलीप हेमराजी देवी मुनिया सुगवन्ती रेखा शशी शीला नेहा साक्षी सहित काफी संख्या में अन्य महिलाएं मौजूद रहीं।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!