जल संरक्षण हेतु ग्राम पंचायतों में लगाये जायेगें रेन वाटर हार्वेस्टिंग प्लान्ट-जिलाधिकारी

19 जुलाई 2019

दीनदयाल शास्त्री ब्यूरो

पीलीभीत । जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव की अध्यक्षता में भूजल संरक्षण व भूजल सप्ताह आयोजन के सम्बन्ध में बैठक गांधी सभागार में सम्पन्न हुई। बैठक में जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि भूजल संरक्षण कार्यक्रम को बडे़ स्तर पर लागू किया जाये। इस कार्य हेतु उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि 15 दिन के अन्दर सभी ग्राम पंचायतों में स्थित भवनों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग प्लान्ट बनाने हेतु सर्वेक्षण किया जाये और माॅडल तैयार कर प्रस्तुत किया जाये, साथ ही साथ आज मुख्यालय के प्रमुख भवनों जैसे विकास भवन, पुलिस लाईन व कलैक्ट्रेट का सर्वेक्षण कर बर्षा के पानी के संचय हेतु वाटर हार्वेस्टिंग प्लान्ट बनाने का कार्य किया जाये। जिलाधिकारी ने कहा कि हमारा मुख्य उद्देश्य भूमि जल स्तर को बढ़ाना है, यह तभी सम्भव है जब अधिक से अधिक वर्षा जल को संचय कर नीचे भूमि तक पहुंचाया जाये, इसके लिए जनपद की समस्त ग्राम पंचायतों में मनरेगा एवं जेसीबी के द्वारा लगभग 750 तालाबों की खुदाई की जा चुकी है और अब प्रत्येक ग्राम पंचायत के भवनों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग प्लान्ट की भी स्थापना की जाये। जिससे अधिक से अधिक बरसात का पानी भूमि में पहुंच सके, इसके लिए समस्त सम्बन्धित अधिकारियों के माध्यम से विशेष प्रयास किये जाये, और ज्यादा से ज्यादा रेन वाटर हार्वेस्टिंग प्लान्टों की स्थापना की जायेगी।

बैठक में जिलाधिकारी द्वारा मण्डल से आये भूगर्भ विभाग के अधिकारी से विगत तीन वर्षो में जल स्तर की स्थिति की रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये उन्होंने कहा कि रिर्पोट के माध्यम से उन क्षेत्रों पर विशेष ध्यान दिया जायेगा जहां पर जल स्तर नीचे गिर रहा है। साथ ही साथ घरेलू कार्यो में उपयोग किये जाने वाले जल का दुरूपयोग न किया जाये इस सम्बन्ध में जागरूकता रैली व कार्यक्रमों के माध्यम से लोगों को जागरूक किया जाये।
बैठक में पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सोनकर, मुख्य विकास अधिकारी रमेश चन्द्र पाण्डेय, जिला विद्यालय निरीक्षण संत प्रकाश, जिला कृषि अधिकारी, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, भूमि जल संरक्षण अधिकारी सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!