जिलाधिकारी ने नगर और गोवंश आश्रय स्थल का आकस्मिक निरीक्षण

08 जुलाई 2019

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । जिलाधिकारी अंकित कुमार अग्रवाल ने हो रही बरसात से राबर्ट्सगंज शहर में जल जमाव व अस्थायी गोवंश आश्रय स्थल में गोवंशों की स्थिति जानने के लिए रिमझिम बरसात होने के बावजूद जा पहुंचे। जिलाधिकारी ने धर्मशाला चौराहा, राबर्ट्सगंज मुख्य बाजार का चौराहा, शीतला मंदिर का क्षेत्र, अम्बेडकर नगर, शिवाजी मिनी स्टेडियम अम्बेडकर नगर, मास्टर कालोनी, न्यू कालोनी, हाईडिल कालोनी, काशीराम आवास, निर्माणाधीन, धंधरौल-राबर्ट्सगंज, पेयजल योजना के तहत निर्मित टंकी आदि का स्थलीय निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने निरीक्षण के दौरान शिवाजी मिनी स्टेडियम, अम्बेडकर नगर को साफ-सुथरा रखने और पौध रोपण कराने के निर्देश मौके पर मौजूद अधिशासी अधिकारी नगर पालिका को दिया। जगह-जगह पर जल जमाव पाये जाने पर जाम नालियों को साफ कराये जाने के निर्देष दियें। काशीराम आवासीय परिसर में निर्माणाधीन पानी की टंकी और भारी संख्या में पड़ी हुई पेयजल आपूर्ति की पाइपों को भी देखा और कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिया।

जिलाधिकारी ने राबर्ट्सगंज शहर में छुट्टा पशुओं को जगह-जगह पाये जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए गोवंश आश्रय स्थल मेंं पशुओं को पकड़कर ले जाने के निर्देश दियें। उन्होंने कहा कि पानी के टंकी के नीचे भारी संख्या में सूअरों का पाया जाना ठीक नहीं है, लिहाजा सूअर स्वामियों को नोटिस देकर आवारा सूअरों के अतिक्रमण पर रोक लगायें। उन्होंने गोवंश आश्रय स्थल के निरीक्षण के दौरान राबर्ट्सगंज गोवंश आश्रय स्थल परिसर में बरसात का पानी से हुए जल जमाव की समस्या का समाधान करने का निर्देश अधिशासी अधिकारी को दिया। उन्होंने कहा कि गोवंशो को रहने, खाने आदि की बेहतर व्यवस्था बनायी जाय। गोवंश आश्रय स्थल परिसर में जल जमाव के निजात के लिए गहरा सोख्ता/बड़ा जल संचयन कूप/टांका का निर्माण कराया जाय और टांके के निर्माण के निकट पेयजल के लिए बोरिंग करायी जाय। टांका के वाटर रिचार्जिग से बोरिंग भी सफल होगी।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!